32वां तेहरान अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेला उद्घाटित, अतिथि देश बना चीन

2019-04-24 18:02:00

32वां तेहरान अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेला 23 अप्रैल को ईरान की राजधानी तेहरान स्थित खोमेनी मस्जिद में उद्घाटित हुआ। चीन और ईरान के प्रकाशन जगत के प्रतिनिधि, पत्रकार, विद्वान और विशेषज्ञ समेत कुछ सौ से अधिक लोगों ने उद्घाटन समारोह में भाग लिया।

चीनी राज्य परिषद के न्यूज़ कार्यालय के उप प्रधान क्वो वेइमिन ने भाषण देते हुए कहा कि मौजूदा पुस्तक मेले में अतिथि देश होने के नाते चीन इसपर बड़ा महत्व देता है और शी चिनफिंग द्वारा लिखित किताब“चीन की शासन व्यवस्था”, “शी चिनफिंग द्वारा सुनाई गई कहानियां”, “चीनी संस्कृति का भंडार”आदि 4 हज़ार किस्मों वाली 15 हज़ार पुस्तकें प्रदर्शित की जा रही हैं। इसके साथ ही चीनी प्रकाशन जगत से आए 200 से अधिक सदस्य वाले प्रतिनिधि मंडल 50 से ज्यादा आदान-प्रदान गतिविधि आयोजित करेगा, जिन में 20 से ज्यादा चीनी लेखक, चित्रकार और विद्वान शामिल हैं। विश्वास है कि अतिथि देश के रूप में चीन की गतिविधियों से चीन और ईरान के बीच प्रकाशन क्षेत्र में आदान-प्रदान और सहयोग मजबूत होगा, द्विपक्षीय पारंपरिक मैत्री की सुदृढ़ता और विकास के लिए सक्रिय भूमिका निभाएगा।

वहीं ईरानी संस्कृति मंत्री अब्बास सालेही ने अपने भाषण में कहा कि विश्व में चीन की प्रभाव शक्ति लगातार बढ़ रही है। तेहरान अंतरराष्ट्रीय पुस्कत मेले में श्रेष्ठ चीनी संस्कृति की रचनाओं की प्रदर्शनी से ईरानी पाठकों की चीन के प्रति समझ बढ़ेगी।

जानकारी के अनुसार, ईरानी अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेले की स्थापना 1987 में हुई, जो इस देश में एक साल में एक बार वाला भव्य सांस्कृतिक समारोह है। चीन मौजूदा पुस्तक मेले का अतिथि देश है। साल 2017 में चीन में आयोजित पेइचिंग पुस्तक मेले में ईरान ने अतिथि देश के रुप में भाग लिया था।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी