टिप्पणी:“बेल्ट एंड रोड”द्वारा खुली विश्व अर्थव्यवस्था के लिए बनाया नया इतिहास

2019-04-28 00:01:00

दूसरा “बेल्ट एंड रोड”अंतरराष्ट्रीय सहयोग शिखर मंच 27 अप्रैल को गोलमेज़ शिखर सम्मेलन की संयुक्त विज्ञप्ति जारी कर संपन्न हुआ। सम्मेलन में उपस्थित विभिन्न देशों के नेताओं ने कहा कि “बेल्ट एंड रोड” पहल और दूसरे सहयोगी रणनीति वाले साझेदारी संबंध के माध्यम से उप-क्षेत्रीय, क्षेत्रीय और वैश्विक स्तर पर अंतरराष्ट्रीय सहयोग को मजबूत किया जाए, समान समृद्धि वाला सुनहरा भविष्य रचा जाए।

दो साल पहले के शिखर मंच की तुलना में मौजूदा मंच में कुल 283 प्रगतियां हासिल हुईं। 64 अरब अमेरिकी डालर मूल्य के सहयोग समझौतों पर हस्ताक्षर किये गये और गोलमेज सम्मेलन में विभिन्न पक्षों ने उच्च गुणवत्ता वाले “बेल्ट एंड रोड” के सह-निर्माण पर व्यापक सहमतियां संपन्न हुईं, जो भविष्य में“बेल्ट एंड रोड”के सह-निर्माण का मार्ग निर्देशन करेगा।

“बेल्ट एंड रोड”आम विकसित रुझान और ऐतिहासिक धारा के अनुरूप गतिरोध को तोड़ता है और सृजनात्मक विकास करता है। दुनिया का मानना है कि केवल खुली विश्व अर्थव्यवस्था से ही विभिन्न देशों की जनता को लाभ मिल सकेगा। पिछले 6 सालों में विभिन्न पक्षों के समान प्रयासों से “बेल्ट एंड रोड” के निर्माण के दौरान आधारभूत तौर पर आपसी संपर्क वाला ढांचा स्थापित हुआ, जिसमें एशिया और यूरोप के उन्मुख छह अंतरराष्ट्रीय आर्थिक सहयोग कोरिडॉर, आपसी संपर्क वाले रेल नेटवर्क, सड़क मार्ग नेटवर्क, जलीय मार्ग नेटवर्क, वायु मार्ग नेटवर्क और पाइपलाइन नेटवर्क, सूचनात्मक हाई स्पीड रेल नेटवर्क शामिल हैं। 150 देशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों ने चीन के साथ “बेल्ट एंड रोड” के सह-निर्माण वाली सहयोगी संधि पर हस्ताक्षर किए। विश्व बैंक द्वारा हाल में जारी कुछ अनुसंधान रिपोर्टों के अनुसार, “बेल्ट एंड रोड” पहल से इसमें भागीदारी देशों के बीच व्यापारिक मात्रा में 4.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई, विश्व भर में परिवहन का औसतन समय 1.2 प्रतिशत से 2.5 प्रतिशत तक कम हुआ, व्यापार का कुल खर्च 1.1 फीसदी से 2.2 फीसदी तक कम हुआ। वैश्विक प्रत्यक्ष निवेश में बढ़ोत्तरी और वैश्विक व्यापार व रोजगार, खास कर कम आय वाले देशों की आर्थिक वृद्धि पर सक्रिय प्रभाव पड़ा।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी