चीन में भव्य रूप से मई चार आंदोलन की 100वीं वर्षगांठ मनायी गयी

2019-04-30 17:03:00

30 अप्रैल को चीन ने पेइचिंग में 4 मई आंदोलन की 100वीं वर्षगांठ मनाने के लिए एक महासभा आयोजित की। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने स्मृति महासभा को संबोधित करते हुए कहा कि सौ वर्ष पहले चीन में देश-विदेश को चौंकाने वाला 4 मई आंदोलन पैदा हुआ था, जो चीनी निकट और आधुनिक इतिहास में एक युगांतर घटना थी।यह राष्ट्र को संकट से बचाने, राष्ट्रीय गरिमा की रक्षा करने और राष्ट्रीय शक्ति इकट्ठा करने के लिए चीनी लोगों द्वारा किया गया महान सामाजिक आंदोलन है। और यह नए विचार, नई संस्कृति, नए ज्ञान का प्रचार करने का महान जागरण आंदोलन और नव-संस्कृति आंदोलन है।

शी चिनफिंग ने भाषण देते हुए कहा कि राष्ट्र पुनरुत्थान चीनी युवाओं की जिम्मेदारी है। चीनी राष्ट्र के महान पुनरुत्थान का एहसास करने के लिए जिम्मेदारी उठाने की भावना होनी चाहिए। नए युग में चीनी युवाओं को भारी बोझ उठाने की हिम्मत रखते हुए कठिनाईयों को दूर करना चाहिए, जिम्मेदारी उठाने के दौरान बड़ा होना चाहिए, ताकि नए युग में चीन के सुधार के दौरान युवा जवानी को खिलने दिया जा सके।

शी चिनफिंग ने बताया कि देश भक्ति हर एक चीनी के लिए मर्यादित कर्तव्य, जिम्मेदारी और भाव भी है। नये युग के चीनी युवाओं के लिए मातृभूमि से प्रेम करना प्रतिभाशाली बनने का आधार है।चीनी युवा हमेशा से चीनी राष्ट्र के महान कायाकल्प का एहसास करने की प्रेरणा शक्ति हैं।

उन्होंने कहा कि नए युग में चीनी युवाओं को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व पर कायम रहना चाहिए, आम लोगों के साथ दो सौ वर्ष के प्रयास के लक्ष्य पूरा करने, चीनी राष्ट्र के महान कायाकल्प की चीनी सपने का एहसास करने के लिए प्रयास करना चाहिए। नए युग में चीनी युवाओं को महान आदर्श स्थापित करना चाहिए।

शी चिनफिंग ने बताया कि आज चीनियों का जीवन स्तर उन्नत हुआ है। लेकिन संघर्ष करने की भावना कम नहीं होनी चाहिए। चीनी युवाओं को संघर्ष की भावना नहीं खोनी चाहिए। चीनी युवाएओं को विज्ञान सीखने ,अपनी दक्षता उन्नत करने और कौशल पर महारत हासिल करने की कोशिश करनी चाहिए ताकि अपना विचार ,दृष्टिकोण और ज्ञान का स्तर तेजी से हो रहे सामाजिक विकास के अनुरूप ढाला जाए ।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी