टिप्पणीः चीन वित्तीय खुलेपन का विस्तार करेगा

2019-05-03 16:33:00

चीनी बैंकिंग व बीमा निगरानी और प्रबंधन समिति के अध्यक्ष क्वो शुछिंग ने हाल में कहा कि विदेशों के साथ बैंकिंग व बीमा उद्योग के खुलेपन का और विस्तार करने के लिए चीन 12 नये कदम उठाएगा। इन कदमों में चीन में विदेशी पूंजी वाले बैंक, शेयर ट्रस्ट कंपनी या बीमा एजेंट कंपनी आदि की स्थापना करते समय पूंजी की शर्त में शैथिल्य लाना, चीनी और विदेशी पूंजी से स्थापित खर्च वित्तीय कंपनी की पहुंच नीति को ढीला करना, विदेशी बैंक द्वारा आरएमबी व्यवसाय के अनुमोदन को रद्द करना आदि शामिल हैं।

यह गत वर्ष के अप्रैल माह में चीन द्वारा बैंकिंग व बीमा उद्योग के खुलेपन की नीति के लागू होने के बाद वित्तीय उद्योग के खुलेपन के लिए चीन के नये कदम होंगे। निसंदेह वह चीनी बैंकिंग और बीमा उद्योग के खुलेपन और बाजारीकरण के स्तर को उन्नत करेगा, चीनी वित्तीय क्षेत्र के व्यापारिक वातावरण को परिपूर्ण करेगा, विदेशी पूंजी के चीनी वित्तीय उद्योग के विकास में भाग लेने की जीवित शक्ति को प्रेरित करेगा और बुनियादी तौर पर चीनी वित्तीय सेवा उद्योग की प्रतिस्पर्द्धी जागरूकता, बाजार जागरूकता, नवाचार जागरूकता और सेवा जागरूकता को आगे बढ़ा सकेगा।

वित्तीय उद्योग किसी देश के आर्थिक विकास का स्थिर इंजन और प्रेरणा शक्ति होता है। इस साल चीन की सरकारी कार्य रिपोर्ट में भी वित्तीय उद्योग के सुधार व खुलेपन को गहरा करने की योजना बनायी गयी। चीन में वित्तीय खुलापन अपनी गति से कदम ब कदम स्थिरता से आगे विकसित हो रहा है।

इस बार चीन द्वारा पेश किये गये 12 नये कदम अपनी आर्थिक व वित्तीय विकास के नियमों के मुताबिक की गयी एक स्वच्छा कार्यवाई है। इन 12 कदमों की तीन की विशेषताएं हैं। पहला, देशी विदेशी पूंजी की समानता के सिद्धांत पर जोर दिया गया है। दूसरा, विदेशी वित्तीय संस्थाओं के चीनी बाजार में पहुंचने की शर्त में शैथिल्य लाना है। तीसरा, चीन में विदेशी पूंजी के व्यवसाय का विस्तार करना है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी