हेल्स-बर्टन अधिनियम के अनुच्छेद-3 के विरोध में यूरोपीय संघ उचित कदम उठाने को तैयार

2019-05-03 17:03:00

यूरोपीय संघ में विदेशी मामलों और सुरक्षा नीति की उच्च प्रतिनिधि फेडेरिका मोगेरिनी ने 2 अप्रैल को एक बयान जारी कर कहा कि अमेरिका ने 2 तारीख को हेल्स-बर्टन अधिनियम के अनुच्छेद-3 के कार्यान्वयन की अनुमति दी, यूरोपीय संघ ने इस पर खेद जताया है। हेल्स-बर्टन अधिनियम के प्रभाव से निपटने के लिए यूरोपीय संघ सभी उचित उपाय करने को तैयार है।

बयान में कहा गया कि अमेरिका के इस कदम ने 1997 और 1998 में यूरोप और अमेरिका के बीच हासिल समझौतों के प्रतिबद्धताओं का उल्लंघन किया है। जिससे अटलांटिक साझेदारी में अनावश्यक तनाव पैदा होने की आशंका है।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने 17 अप्रैल को कहा कि क्यूबा के पश्चिमी गोलार्ध देशों के खिलाफ कार्रवाइयों ने सीधे तौर पर अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डाल दिया है। 2 मई से अमेरिका हेल्स-बर्टन अधिनियम के अनुच्छेद-3 की संपूर्ण सामग्री को लागू करने की अनुमति देगा।

अमेरिका ने वर्ष 1996 में हेल्स-बर्टन अधिनियम पारित किया। अनुच्छेद 3 की प्रासंगिक सामग्री के मुताबिक, 1959 में क्यूबा की क्रांति की जीत के बाद, क्यूबा सरकार ने कुछ अमेरिकी कंपनियों और व्यक्तिगत संपत्ति को "जब्त" कर लिया। अमेरिकी नागरिक अमेरिकी अदालत में इन संपत्तियों का उपयोग करने वाली क्यूबाई इकाई और इसके संबंधित विदेशी कंपनियों के खिलाफ मुकदमा दायर कर सकते हैं। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने इसका कड़ा विरोध किया है।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी