आर्कटिक परिषद की मंत्री स्तरीय बैठक में साझा घोषणापत्र जारी नहीं करना खेदजनक है:चीन

2019-05-09 15:04:00

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कंग श्युंग ने 8 मई को संवाददाता सम्मेलन में 11वीं आर्कटिक परिषद की मंत्री स्तरीय बैठक में साझा घोषणापत्र जारी नहीं होने के प्रति खेद व्यक्त किया।

कंग श्युंग ने कहा कि आर्कटिक क्षेत्र अपने अनूठे भौगोलिक स्थान और नाजुक प्राकृतिक वातावरण के कारण बहुत आसानी से जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिंग से प्रभावित है। जलवायु परिवर्तन का उचित निपटारा आर्कटिक क्षेत्र के पर्यावरण संरक्षण और निरंतर विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

उन्होंने यह भी कहा कि चीन पारिस्थितिक सभ्यता का निर्माण बढ़ाता है और जलवायु परिवर्तन के मुकाबले के लिए अंतरराष्ट्रीय सहयोग में सक्रिय भाग लेता है। चीन के कार्बन कटौती कदम आर्कटिक क्षेत्र के प्राकृतिक वातावरण पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं। चीन विभिन्न पक्षों के साथ सहयोग व आदान-प्रदान बढ़ाते हुए आर्कटिक क्षेत्र पर जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों का कारगर निपटारा करना चाहता है।

रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका और अन्य सदस्य देशों के बीच जलवायु परिवर्तन पर मतभेद के कारण 11वें आर्कटिक परिषद की मंत्री स्तरीय सभा में साझा घोषणापत्र जारी नहीं हुआ। यह आर्कटिक परिषद के 23 साल के इतिहास में पहली बार हुआ है।

(मीनू)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी