टिप्पणीः थाईवान सवाल के सहारे चीन को रोकने की कार्यवाई आशाहीन विकल्प है

2019-05-09 16:33:00

टिप्पणीः थाईवान सवाल के सहारे चीन को रोकने की कार्यवाई आशाहीन विकल्प है

अमेरिकी प्रतिनिधि सदन ने 7 मई को तथाकथित "2019 थाईवान आश्वासन नियम", "थाईवान और थाईवान संबंध नियम के कार्यांवयन पर अमेरिका के वचन की फिर से पुष्टि" के प्रस्ताव को पारित किया। यह अमेरिका द्वारा फिर एक बार थाईवान सवाल के सहारे चीन के अंदरूनी मामलों में धृष्ठतापूर्वक हस्तक्षेप करने और चीन के शांतिपूर्ण विकास पर रोक लगाने की खतरनाक राजनीतिक कार्रवाई है। इससे फिर से अमेरिका जैसी शक्तियों का राजनीति का खेल खेलने का बुरा व्यवहार दिखाया गया है। अगर अमेरिका अपनी जिद पर अड़ा रहता है, तो महत्वपूर्ण क्षेत्रों में चीन और अमेरिका के बीच सहयोग और थाईवान के जलडमरुमध्य की शांति, स्थिरता को नुकसान पहुंचेगा। चीन इसका दृढ़ विरोध करता है और अमेरिका के सामने गंभीरता से मामला भी उठाया है।

1 जनवरी 1979 को अमेरिकी राष्ट्रपति जिमी कार्टर के कार्यकाल में चीन और अमेरिका ने औपचारिक तौर पर राजदूत स्तरीय राजनयिक संबंध स्थापित किए थे। इस साल चीन-अमेरिका राजनयिक संबंध स्थापना की 40वीं वर्षगांठ के मौके पर कार्टर ने वाशिंगटन पोस्ट पर लेख छाप कर चेतावनी दी है कि द्विपक्षीय संबंधों के संवेदनशील होने की स्थिति में दोनों पक्षों की कोई भी गलत कार्यवाही दुनिया भर में आपदा पैदा करेगी। अमेरिकी कांग्रेस के राजनीतिज्ञों को समझना पड़ता है कि थाईवान सवाल के सहारे चीन को रोकने की कोई भी खतरनाक कार्यवाई एक आशाहीन विकल्प है। क्योंकि इसमें तीन गंभीर गलतियां हैं।

पहला, चीन और अमेरिका दो बड़े देशों के बीच संबंधों के विकास के आधार को पूरी तरह क्षति पहुंचना। आज दुनिया में देशों के बीच आदान-प्रदान को निश्चित सिद्धांत और नियम का पालन करना पड़ता है। यह द्विपक्षीय संबंधों की स्थिरता और उन्नति का आधार है। चीन और अमेरिका दुनिया में सबसे बड़ी दो आर्थिक शक्तियां और महत्वपूर्ण राजनीतिक देश हैं। दोनों देशों के बीच संबंधों का आधार और मज़बूत, स्थिर होने से दुनिया में और अधिक स्थिरता और उम्मीद पैदा होगी। यह आधार पहले ही चीन-अमेरिका राजनयिक संबंधों की स्थापना के तीन संयुक्त विज्ञप्ति में स्पष्ट किया गया है, यानी कि दुनिया में सिर्फ एक चीन है। मुख्यभूमि और थाईवान चीन के अभिन्न अंग रहे हैं। चीन लोक गणराज्य चीन की एकमात्र कानूनी सरकार है। अमेरिकी प्रतिनिधि सदन की थाईवान आश्वासन नियम पारित करने की कार्यवाई से बुनियादी अंतर्राष्ट्रीय नियम और कर्तव्य को गंभीरता से नुकसान पहुंचा है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी