एशियाई सभ्यताओं की आपसी सीख और मानव साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना का उपमंच उद्घाटित

2019-05-16 12:02:00

एशियाई सभ्यता संवाद सम्मेलन यानी सीडीएसी के उपमंचों में से एक एशियाई सभ्यताओं की आपसी सीख और मानव साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना का उपमंच 15 मई के तीसरे पहर पेइचिंग में आयोजित हुआ। एशिया और अन्य क्षेत्रों से आए अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के प्रतिनिधियों, सरकारी अधिकारियों, थींक टैंक के प्रभारियों और जाने माने विद्वानों व उद्योगपतियों समेत करीब 200 प्रतिनिधियों ने इस उपमंच में हिस्सा लिया।

मौके पर चीनी समाज और विज्ञान अकादमी के प्रधान श्येइ फूचान ने भाषण देकर कहा कि हालिया दुनिया में सब से तेज़ विकास होने वाले क्षेत्र होने के नाते एशियाई विश्व आर्थिक विकास की इंजन बन चुका है। मानव साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना चीनी सभ्यता और एशियाई सभ्यता द्वारा विश्व सभ्यता के विकास के लिए योगदान देने वाली चीनी बुद्धिमता है। लोगों के बीच संपर्क बेल्ट एंड रोड पहन के पाँच प्रमुख विषयों में से एक है, साथ ही एशियाई साझे भाग्य वाले समुदाय का अहम आधार भी है।

एशियाई सहयोग वार्तालाप के महासचिव बुन्दित लिमशून ने अपने भाषण में कहा कि भूमंडलीकरण ने विश्व सांस्कृतिक मूल्य विचारधाराओं के आदान प्रदान को आगे बढ़ाया है। उन्होंने बेल्ट एंड रोड पहल की बड़ी सराहना की और कहा कि इस का अहम अर्थ है यह न केवल आर्थिक व व्यापारिक विकास से संबंधित है, बल्कि सांस्कृतिक क्षेत्र के विषय भी शामिल हैं।

गौरतलब है कि इस उपमंच का मकसद एशियाई देशों के विद्वानों के बीच आपसी आदाम प्रदान को मजबूत करना है, ताकि लोग समान वार्ता में आपसी सीख सकते हैं और एशियाई देशों की सभ्यताओं की आपसी सीख को आगे बढ़ा सकते हैं।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी