चीन ने यूएन बैठत में चीन-अमेरिका अर्थिक व्यापारिक विवाद को लेकर अपने रुख की व्याख्या की

2019-05-18 15:31:00

संयुक्त राष्ट्र स्थित चीनी स्थाई प्रतिनिधि मा चाओश्वी ने 17 मई को यूएन मुख्यालय में“चीन-अमेरिका आर्थिक व्यापारिक संबंध”मुद्दे पर बैठक की अध्यक्षता की और मार्च 2018 में अमेरिका द्वारा एकतरफ़ा तौर पर छेड़े गए विवाद के बाद से लेकर अब तक चीन और अमेरिका के बीच परामर्श की स्थिति से अवगत कराया, तथ्यों को सार्वजनिक करते हुए चीन के रुख की व्याख्या की और अमेरिका द्वारा चीन पर लगाए गए बेवजह आरोपों का खंडन किया। बैठक में संयुक्त राष्ट्र संघ के सदस्य देशों और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के 100 प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

मा चाओश्वी ने कहा कि अमेरिका चीन की सदिच्छा और कार्रवाई, समानता और आपसी लाभ वाले सिद्धांत को अनदेखा करते हुए अति दबाव डालता है, जिससे चीन-अमेरिका व्यापारिक विवाद का स्तर बढ़ गया और द्विपक्षीय आर्थिक व्यापारिक संबंध को नुकसान पहुंचा। यह अमेरिका की व्यापारिक दादागिरी का नतीजा है, जिसकी जिम्मेदारी अमेरिका को उठानी चाहिए। चीन व्यापार युद्ध नहीं करना चाहता, लेकिन चीन इससे कभी डरता भी नहीं है। चीन किसी भी बाह्य दबाव के सामने अपना सिर नहीं झुकाएगा और खुद के कानूनी हितों व अधिकारों की रक्षा करने में भी समर्थ है।

मा चाओश्वी ने कहा कि चीन-अमेरिका संबंध बहुत महत्वपूर्ण है, आर्थिक व्यापारिक संबंध द्विपक्षीय संबंध का“गिट्टी का पत्थर”ही नहीं, “प्रोपेलर”भी है। यह न केवल दोनों देशों के संबंध से संबंधित है, बल्कि विश्व की शांति और समृद्धि से भी जुड़ा होता है। सहयोग दोनों का एक ही सही विकल्प है। लेकिन सहयोग को सिद्धांत चाहिए। महत्वपूर्ण सैद्धांतिक मामले पर चीन कभी रियायत नहीं देता। चीन अमेरिका द्वारा टैरिफ़ बढ़ाने वाले कदम का कड़ा विरोध करता है, क्योंकि इससे न केवल चीन और अमेरिका को नुकसान पहुंचता है, बल्कि पूरी दुनिया को भी नुकसान होता है। टैरिफ़ बढ़ाना किसी भी समस्या का निपटारा नहीं है, चीन को आशा है कि अमेरिका चीन के साथ एक ही दिशा की ओर आगे बढ़ते हुए पारस्परिक सम्मान और समान व्यवहार के आधार पर एक दूसरे की चिंता का ख्याल रखते हुए समान कोशिश करेगा, ताकि एक आपसी हित और उभय जीत वाला समझौता संपन्न हो सके। यह समझौता समानता और आपसी लाभ वाला होना चाहिए, चीन के तीन प्रमुख चिंताओं वाले मुद्दों का समाधान किया जाना जरूरी है। परामर्श के दौरान सदिच्छा चाहिए, सिद्धांत चाहिए और वचन का पालन किया जाना चाहिए।

बैठक में उपस्थित विभिन्न पक्षों के विचार में चीन ने ठीक समय पर यह बैठक बुलायी, जिससे उन्हें चीन-अमेरिका आर्थिक व्यापारिक संबंध को समझने, खास कर चीन-अमेरिका आर्थिक व्यापारिक विवाद की वास्तविक स्थिति को जानने के लिए उपयोगी है। उन्होंने कहा कि चीन-अमेरिका आर्थिक व्यापारिक संबंध विश्व आर्थिक स्थिरता के लिए महत्वपूर्ण है। वे समानता वाले परामर्श और वार्ता से मतभेदों के समाधान का समर्थन करते हैं, ताकि बहुपक्षीय व्यापारिक व्यवस्था की रक्षा की जा सके।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी