टिप्पणीः चीन के विशाल बाजार को कोई नजरअंदाज नहीं कर सकता

2019-05-21 19:31:02

आंकड़े बताते हैं कि इस साल के जनवरी से अप्रैल तक चीन ने वास्तविक रूप से 3.0524 खरब चीनी युआन की विदेशी पूंजी का इस्तेमाल किया, जिसमें पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 6.4 प्रतिशत का इज़ाफ़ा हुआ। चीन में दक्षिण कोरिया, अमेरिका और जर्मनी आदि प्रमुख निवेश स्रोत क्षेत्रों का निवेश भी क्रमशः 114.1 प्रतिशत, 24.3 प्रतिशत और 101.1 प्रतिशत अधिक रहा। चीन के शांगहाई में 27 अंतर्देशीय कंपनियों ने अपने मुख्यालयों या अनुसंधान केंद्रों को वहां रखा। पहली तिमाही में शांगहाई में विदेशी पूंजी के प्रयोग में 20.3 प्रतिशत का इज़ाफ़ा हुआ। जबकि चीन के सब से बड़े आर्थिक विशेष क्षेत्र हाईनान प्रांत में इस साल के पहले चार महीनों में विदेशी पूंजी का प्रयोग करीब 20 गुना तक पहुंचा। इन सब ने जाहिर है कि चीन के विकास के प्रति अंतर्राष्ट्रीय पूंजी का पूरा विश्वास है। इसके निम्न कई कारण हैं।

पहला, चीन के विशाल बाजार ने अंतर्राष्ट्रीय पूंजी को विश्वास दिया। चीन में करीब 1.4 अरब उपभोक्ता है। चीन में विश्व का सब से बड़े पैमाने वाला मध्यम वर्ग की आमदनी समूह है। इस साल की पहली तिमाही में चीनी आर्थिक विकास में उपभोग की योगदान दर 65.1 प्रतिशत तक पहुंची।

दूसरा, चीनी बाजार की जीवित शक्ति है। उच्च व नयी तकनीक विनिर्माण वाले उद्योग और उच्च तकनीक वाले सेवा उद्योग चीन के आर्थिक विकास की नयी प्ररेणा शक्ति बन गयी है। विदेशी पूंजी को राष्ट्रीय व्यवहार देने और बौद्धिक संपदा के संरक्षण में जोर देने आदि नीतियों व कानूनों की गारंटी में चीन कई विदेशी उच्च विज्ञान व तकनीक वाली कंपनियों के तकनीक नवाचार करने, 5जी और एआई का विकास करने का अच्छा स्थल बन चुका है। उदाहरण के लिए सॉफ्टवेयर कंपनी ने शांगहाई को एआई रणनीति के लेइआउट का अहम स्थल बनाया और क्रमशः कई अनुसंधान संस्थाओं की स्थापना की।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी