टिप्पणीः तकनीकी बदमाशी से चीन पर दबाव डालना बेकार

2019-05-22 19:31:00

हुआवेइ कंपनी के खिलाफ़ निर्यात पाबंदी लगाने के बाद हाल में अमेरिका ने फिर एक बार चीन के शनजन के डीजे-इनोवेशन्स कंपनी द्वारा उत्पादित यूएवी में निहित सूचना जोखिम होने की निंदा की। अमेरिका ने धमकी दी कि वह आगामी कई हफ्तों में निर्णय लेगा कि चीनी वीडियो निगरानी उपकरण के निर्माता हाईखांग वेइशी कंपनी को ब्लेक सूची में शामिल करेगा या नहीं, ताकि उस के अमेरिकी कारोबारों से तकनीक खरीदने पर पाबंदी लगा सके। इससे पहले अमेरिका के कुछ राजनीतिज्ञों ने कहा कि चीनी चोंग छ कंपनी द्वारा न्यूयार्क की नयी मेट्रो की डिजाइन प्रतियोगिता जीतना अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा को धमकी है, इसलिए उन्होंने इस की जांच करने की मांग पेश की।

विश्व का एकमात्र सुपर देश होने के नाते, हालांकि विज्ञान व तकनीक, सैन्य और आर्थिक क्षेत्र में अमेरिका की शक्तिशाली ताकत है, फिर भी अमेरिका के कुछ राजनयिकों का दिल बहुत संकीर्ण है और वे दूसरे देश के विकास की सामान्य खोज को कदई स्वीकार नहीं करते हैं।

चीनी निर्माण उद्योग के समुन्नत प्रतिनिधियों की हैसियत से हुआवेइ, डीजे-इनोवेश्न्स, चोंग छ और हाईखांग वेइशी आदि कारोबारों ने उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादकों और उचित दाम से विश्व बाजार में मान्यता मिली है। जिनकी सुरक्षा भी अमेरिका समेत विश्व के अनेक देशों की कड़ी जांच के बाद साबित की गयी है।

आज अमेरिका फर्स्त की नीति अपनाने वाले राजनयिकों ने न्यायपूर्ण प्रतिस्पर्द्धा इस बाजार के आर्थिक नियमों को त्यागकर मनमानी रूप से देश की शक्ति का प्रयोग किया और चीनी कारोबारों के खिलाफ़ तकनीक बदमाशी किया, जिसका मकसद चीन के विज्ञान व तकनीक की प्रगति से रोकना है और अमेरिका के वैश्विक अधिपति के स्थान की रक्षा करना है। वास्तव में चाहे हुआवेइ या डीजे-इनोवेशन्स, अमेरिकी राजनयिकों ने उन पर राष्ट्रीय सुरक्षा को क्षति पहुंचाने वाले कारोबार कहे, लेकिन अभी तक कोई सबूत नहीं है। अमेरिकी राजनयिकों की इन कार्यवाइयों से अनेक अमेरिकी विद्वानों और उद्योगपती भी हास्यास्पद लग रहे हैं। अमेरिकी मशहूर अर्थशास्त्री चेफरेइ साक्स ने कहा कि चीन की एकमात्र गलती है चीन के पास 1.4 अरब आबादी है। अगर चीन 5 करोड़ की आबादी वाला दक्षिण कोरिया होतो, तो उसे अमेरिका द्वारा महान विकास की सफल कहानी माना जाता। तथ्य इसी तरह है। चीन कितना विशाल है जो अमेरिका द्वारा दुनिया का नेतृत्व करने की कार्यवाई का खंडन कर सकता है।

निसंदेह अमेरिका द्वारा छेड़ी गयी तकनीकी बदमाशी कार्यवाई उनके सामने आयी दूसरी एक चुनौती है और सबक भी है। भविष्य के उन्मुख तूफ़ान में निरंतर विकसित करने वाला चीन विविध प्रभुत्ववाद का प्रबल जवाबी प्रहार है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी