चीनः चीन-अमेरिका व्यापारिक वार्ता में सदिच्छा की जरूरत

2019-05-23 19:31:00

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू खांग ने 23 मई को पेइचिंग में कहा कि चीन आशा करता है कि अमेरिका द्वारा पुनः वार्ता की मेज पर वापस लौटने का रवैया संजीदा है। चीन के लिए वार्ता का द्वार हमेशा के लिए खुला है, लेकिन वार्ता को अर्थवान होना चाहिए। वार्ता की सदिच्छा होने की आवश्यकता भी है।

रिपोर्ट है कि अमेरिकी वित्त मंत्री ने आशा जताई कि अमेरिका और चीन पुनः वार्ता की मेज़ पर वापस लौट सकेंगे। इसकी चर्चा में लू खांग ने कहा कि वार्ता का द्वार हमेशा के लिए खुला है। लेकिन एक आपसी हित वाले समझौते को एक दूसरे का सम्मान करने और आपसी लाभ के आधार पर आधारित होना चाहिए। अमेरिका ने राजनीतिक मकसद से देश की शक्ति का प्रयोग कर चीनी वैज्ञानिक व तकनीक कारोबारों पर प्रहार किया, जिससे वैश्विक वैज्ञानिक व तकनीक विकास व सहयोग पर बड़ा असर पड़ा है। अमेरिका की इस कार्यवाई को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की मान्यता व समर्थन नहीं मिलेगा।

इधर के दिनों में विदेशी कारोबारों द्वारा हुआवेइ कंपनी को सप्लाई को बंद करने की रिपोर्टें होती रही। इस की चर्चा में लू खांग ने कहा कि हाल में हुआवेइ कंपनी के संस्थापक रन जंगफ़ेइ ने मीडियाओं के साथ साक्षात्कार किया। उन की रिपोर्टों को देश विदेश की व्यापक सराहना मिली है। चीन सरकार हुआवेइ समेत चीनी विज्ञान व तकनीक उद्यमों के बाहरी सहयोग गहरा करने का समर्थन करती रहेगी। यह उद्यमों के बीच आपसी लाभ व साझी जीत के लिए हितकारी है, साथ ही विश्व वैज्ञानिक व तकनीक प्रगति और आर्थिक विकास को आगे बढ़ाने में लाभदायक होगा। चीन आशा करता है कि विभिन्न देश चीनी कारोबारों को न्यायपूर्ण, स्थिर और अनुमानित व्यापारिक वातावरण प्रदान कर सकेंगे। विश्वास है कि यह इन देशों के बुनियादी हितों से भी मेल खाता है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी