टिप्पणी:लांग मार्च की भावना से अमेरिका के अत्याधिक दबाव को तोड़ेगा चीन

2019-05-27 16:31:01

हाल ही में चीनी राष्ट्रपति शी चिन फिंग ने च्यांग शी प्रांत के निरीक्षण दौरे के दौरान 1934 के अक्तूबर में चीनी श्रमिक और किसानों की लाल सेना के लांग मार्च शुरू होने के स्मारक को फूलों की टोकरी अर्पित की और लांग मार्च की भावना हमेशा से चमकते रहने पर भी ज़ोर दिया।

बाहरी दुनिया को लगता है कि अमेरिका द्वारा व्यापारिक, तकनीकी, सैनिक और सांस्कृतिक आदान-प्रदान के कई क्षेत्रों में चीन पर अत्याधिक दबाव दिये जाने का मुकाबला करने के लिए चीन लांग मार्च की भावना से इसे तोड़ने का प्रयास करता है, ताकि देश के विकास का नया भविष्य बनाया जा सके।

चीनी श्रमिक और किसानों की लाल सेना के लांग मार्च को 20वीं शताब्दी में दुनिया के भविष्य को प्रभावित करने वाले सबसे महत्वपूर्ण मामलों में से एक माना जाता है। आज विश्व के दूसरे बड़े आर्थिक समुदाय के रूप में चीन एक बार फिर लांग मार्च की भावना से सभी लोगों को राष्ट्र के महान कायाकल्प के लिए संघर्ष को प्रोत्साहित करता है, जिसका बड़ा महत्व है।

अमेरिका द्वारा चीन पर दिए गए अत्याधिक दबाव का नया चरण शुरू हुआ है, जो अमेरिका लगातार चीन की शीर्ष प्रौद्योगिकी कंपनियों पर प्रतिबंध लगाता है और चीन के समग्र तकनीकी विकास को रोकने का प्रयास करता है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पेओ ने 23 मई को कहा कि वे चीन की हुआवेई कंपनी द्वारा लाए गए सुरक्षा खतरों की व्याख्या करने के लिए विभिन्न देशों के नेताओं के साथ मुलाकात कर रहे हैं। चीन मशीनरी उद्योग सूचना संस्थान के आंकड़ों के अनुसार 17 मई तक अमेरिका ने "राष्ट्रीय सुरक्षा और विदेश नीति को खतरा" के नाम से 260 से अधिक चीनी कंपनियों को निर्यात नियंत्रण "इकाई सूची" में शामिल किया, जो इस सूची का 21.9 प्रतिशत हिस्सा रहा है और केवल रूस के पीछे है।

इस माध्यम का लक्ष्य है अमेरिका और चीन के बीच व्यापार सलाह मश्विरे को समाप्त नहीं करने की स्थिति में लगातार चीन पर अत्याधिक दबाव देना। लेकिन यह स्पष्ट है कि अमेरिका ने तकनीकी नवाचार में चीनी लोगों की सौम्य शक्ति का कम आंकलन किया। चीनी लोग हमेशा से लांग मार्च की भावना से खुद को प्रेरित करते हैं, राष्ट्रीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए पूरे प्रयास करते हैं।

सुधार और खुलेपन से चीन कई वर्षों में विश्व का दूसरा बड़ा आर्थिक समुदाय बना है। वैज्ञानिक और तकनीकी प्रगति मिलना और तकनीकी विकास के फल को साझा करना मानव समाज की समान इच्छा है। यह किसी भी देश या राष्ट्र का विशेषाधिकार नहीं है। चीन हुआवेई कंपनी समेत चीनी प्रौद्योगिकी उद्योगों के विदेशी सहयोग का लगातार समर्थन करेगा। चीन सरकार अमेरिका समेत चीन में निवेश करने वाले विदेशी उद्योगों के कानूनी अधिकार की रक्षा करेगी। अमेरिका के दबाव का सामना करते हुए चीन लगातार जीत के लिए लड़ेगा और आगे बढ़ेगा।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी