शांगरी-ला वार्ता पर चीनी रक्षा मंत्री के भाषण का सक्रिय मूल्यांकन

2019-06-03 16:01:00

18वीं शांगरी-ला वार्ता 2 जून को संपन्न हुई। वार्ता में भाग लेने वाले प्रतिनिधियों ने चीनी रक्षा मंत्री वेइ फ़ंगहो द्वारा दिये गये भाषण का सक्रिय मूल्यांकन किया।

2 जून को वेइ फ़ंगहो ने मुख्यतः चीन द्वारा मानव साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना को आगे बढ़ाने में किये गये प्रयास का परिचय दिया। उन्होंने चीन द्वारा शांतिपूर्ण विकास के रास्ते पर कायम रहने, प्रतिरक्षा नीति और विश्व शांति व स्थिरता के लिए चीनी सेना के सक्रिय योगदान का व्याख्यान किया। सिंगापुर के एस.राजरत्नम स्कूल अफ़ इंटरनेशनल स्टडीज़(आरएसआईएस) के उप प्रोफ़ेसर ली मिंगच्यांग ने कहा कि वेइ फ़ंगहो के भाषण ने स्पष्ट रूप से चीन के रुख पर प्रकाश डाला है और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर चीन के रुख का परिचय भी दिया। सवालों का जवाब देते समय उन्होंने संवेदनशील समस्या का प्रत्यक्ष सामना किया और शांति रूप से भी समझाया।

अंतर्राष्ट्रीय सामरिक अनुसंधान संस्था के पूर्व अध्यक्ष और यूरोपीय वरिष्ठ सलाहकार फ़्रेन्सोइस हेइसबुर्ग ने कहा कि वेइ फ़ंगहो ने अपने भाषण में चीनी सेना के आत्मविश्वास का रुख जताया, जिसने लोगों पर गहरी छाप छोड़ी है।

2002 से इस साल तक चीन ने करीब शांगरी-ला वार्ता के सभी सम्मेलनों में हिस्सा लिया। यह 2011 के बाद चीनी रक्षा मंत्री ने फिर एक बार इस वार्ता में भाग लिया है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी