टिप्पणी:इतिहास में सबसे अच्छे काल में हैं चीन-रूस संबंध

2019-06-04 20:01:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग 5 जून को रूस की राजकीय यात्रा करने जाएंगे और वहां आयोजित 23वें सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच में भाग लेंगे। इस वर्ष चीन-रूस संबंधों की स्थापना की 70वीं जयंती है। दोनों पक्षों ने अनेक बार यह दावा किया है कि द्विपक्षीय संबंधों का सबसे अच्छा ऐतिहासिक काल सामने आया है। शी चिनफिंग की यात्रा से चीन-रूस संबंधों को और उन्नत स्तर तक पहुंचाया जाएगा।

चीन और रूस के राजनेताओं ने बीते पाँच सालों में बीस से अधिक वार्तालाप कीं और आपस में घनिष्ठ कार्य संबंध और व्यक्तिगत मैत्री कायम की है। इस वर्ष अप्रैल में राष्ट्रपति पुतिन ने चीन में आयोजित दूसरे बेल्ट एंड रोड अंतर्राष्ट्रीय सहयोग शिखर सम्मेलन में भाग लिया। दो महीने बाद राष्ट्रपति शी भी 23वें सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच में भाग लेंगे। वर्तमान की अंतर्राष्ट्रीय स्थितियों में चीन और रूस हमेशा एक दूसरे के विकास रास्ते का समादर करते हैं, एक दूसरे के अन्दरूनी मामलों में हस्तक्षेप नहीं करते हैं और एक दूसरे के केंद्रीय हितों का डटकर समर्थन करते हैं। वर्ष 2018 में चीन-रूस व्यापार एक खरब अमेरिकी डालर के पार कर गया। राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि व्यापार रकम के बढ़ने से दोनों देशों के बीच संबंधों के विकास की स्थिति साबित है और वह भी दोनों देशों के बीच पारस्परिक विश्वास का परिणाम है।

चीन रूस संबंधों की स्थापना की 70वीं जयंती पर दोनों देशों के बीच सहयोग करने का फसलदार साल भी सामने आया है। हाल ही में दोनों देशों की सीमाओं पर राजमार्ग पुल और रेलवे मार्ग पुल निर्मित किये गये। इस वर्ष के अंत से पहले चीन-रूस प्राकृतिक गैस पाइपलाइन का पूर्वी लाइन खोली जाएगी। इनके अतिरिक्त दोनों देशों के बीच ऊर्जा, बुनियादी उपकरण, उच्च तकनीक, ई-कॉमर्स, कृषि, आर्कटिक विकास तथा स्थानीय सहयोग में भी प्रगतियां हासिल की गयी हैं।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी