चीन व रूस के नेताओं ने संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किये

2019-06-06 11:03:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग व रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने 5 जून को मास्को में चीन व रूस के बीच नये युग में व्यापक रणनीतिक सहयोग साझेदार संबंधों के विकास से जुड़े संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किये।

बयान के अनुसार चीन व रूस के संबंध एक नये युग में पहुंच चुके हैं। जिन के सामने विकास के नये मौके पैदा होंगे। दोनों पक्षों ने नये युग में चीन-रूस व्यापक रणनीतिक सहयोग साझेदार संबंधों के विकास की कोशिश करने की घोषणा की। जिसका लक्ष्य व दिशा यह है कि एक दूसरे की मदद देना और आपस में ज्यादा दृढ़ व शक्तिशाली रणनीतिक समर्थन देना, एक दूसरे को अपने विकास के रास्ते पर कायम रहने और अपने हितों की रक्षा करने का समर्थन देना, दोनों देशों के अपनी अपनी सुरक्षा, प्रभुसत्ता व प्रादेशिक अखंडता को सुनिश्चित करना। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिये दोनों पक्ष संबंधित क्षेत्रों में आपसी विश्वसनीय सहयोग करेंगे। दोनों को राष्ट्रीय विकास रणनीति को जुड़ने के लिये घनिष्ठ समन्वय व रणनीतिक सहयोग करना चाहिये, और अर्थव्यवस्था, व्यापार व पूजी-निवेश में आपसी लाभदायक सहयोग का विस्तार करना चाहिये। बेल्ट एंड रोड को यूरोप-एशिया आर्थिक संघ के साथ जोड़ने में समन्वय कार्रवाई को मजबूत करना चाहिये। सृजन को बढ़ावा देकर व्यापक रूप से दोनों देशों के संबंधों की निहित शक्ति व विकास का ऊर्जा खोजना चाहिये। साथ ही संयुक्त राष्ट्र चार्टर से केंद्रित अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था की रक्षा करनी, आपसी सम्मान, निष्पक्षता, सहयोग व समान जीत वाले नये अंतर्राष्ट्रीय संबंधों का निर्माण करना, और मानव साझा नियति समुदाय का निर्माण करना चाहिये।

बयान में यह कहा गया है कि दोनों नेताओं की रणनीतिक नेतृत्व भूमिका को अदा करना चाहिये। राजनीतिक सहयोग, सुरक्षा सहयोग, व्यावहारिक सहयोग, मानवीय आदान-प्रदान और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग चीन-रूस व्यापक रणनीतिक सहयोग साझेदार संबंधों के महत्वपूर्ण क्षेत्र होंगे। ताकि संबंधों के विषय और समृद्ध हो सकें।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी