तत्कालीन वैश्विक रणनीति की स्थिरता को मज़बूत करने के चीन-रूस संयुक्त ज्ञापन पर हस्ताक्षर

2019-06-06 12:02:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 5 जून को मॉस्को में चीन लोक गणाराज्य और रूस के बीच तत्कालीन वैश्विक रणनीति की स्थिरता को मज़बूत करने के संयुक्त ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये।

ज्ञापन में कहा गया कि चीन और रूस ने हालिया अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा वातावरण के सामने मौजूद गंभीर चुनौतियों को समझा और सामरिक आपसी विश्वास को गहरा करने, सामरिक साझेदारी को मज़बूत करने और विश्व व स्थानीय सामरिक स्थिरता की दृढ़ रक्षा करने का संकल्प लिया है।

चीन और रूस का यह मानना है कि कुछ देशों द्वारा खुद के भू-राजनीति और वाणिज्य हितों पर ख्याल कर अपनी मांग के अनुसार हथियारों के नियंत्रण और बड़े पैमाने वाले विध्वंसक हथियारों के प्रसार की रोकथाम व्यवस्था को बर्बाद करने की कार्रवाई अति खतरनाक है।

चीन और रूस यह पक्ष लेते हैं कि वे परमाणु अप्रसार व्यवस्था को मजबूत करेंगे, नाभिकीय हथियारों के अप्रसार, परमाणु निःशस्त्रीकरण और न्यूक्लियर ऊर्जा के शांतिपूर्ण प्रयोग को सक्रिय रूप से आगे बढ़ाएंगे।

चीन और रूस ने दोहराया कि दोनों पक्ष ईरानी नाभिकीय समस्या के समझौते के निःशर्त कार्यान्वयन का समर्थन करेंगे। ईरान के खिलाफ़ अमेरिका का एकतरफ़ा प्रतिबंध अस्वीकार्य है।

चीन और रूस बहुपक्षीयवाद को आगे बढ़ाते हुए निःशस्त्रीकरण की अंतर्राष्ट्रीय प्रणाली की समान रक्षा करेंगे। इसके साथ ही मौजूदा निःशस्त्रीकरण और परमाणु हथियारों की अप्रसार व्यवस्था को तोड़ने वाली कार्रवाई का अच्छी तरह आकलन करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से समर्थन देने की अपील की।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी