रूसी विद्वानः चीन के अनुभव सीखने योग्य हैं

2019-06-09 16:01:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 7 जून को 23वें सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच के अधिवेशन में भाषण दिया, जिस पर सकारात्मक प्रतिक्रियाएं मिली हैं। रूसी विद्वानों ने कहा कि शी चिनफिंग की वर्तमान रूस यात्रा ने सामरिक और समग्र दृष्टिकोण से चीन-रूस संबंध को उन्नत किया है। चीन का आर्थिक विकास फ़ार्मूला विश्व के सब से सफल फ़ार्मूलों में से एक है, जो विभिन्न देशों के लिए सीखने योग्य है।

रूसी राष्ट्रपति के क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण के सलाहकार सेर्गेई ग्लाजयेव ने कहा कि हाल में रूस और चीन के बीच व्यापक राजनीतिक और आर्थिक विश्वास स्थापित हुआ है। रूस और चीन विश्व बहुध्रुवीकरण के ढांचे की रक्षा करने की दृढ़ शक्तियां बन सकेंगे।

उन्होंने कहा कि इधर के वर्षों में रूस और चीन के बीच घनिष्ट आदान-प्रदान व सहयोग बरकरार है। सिलसिलेवार अहम सहयोग के समझौतों का सक्रिय कार्यान्वयन किया जा रहा है। उन्हें विश्वास है कि आपसी लाभ व साझी जीत और अंतर्राष्ट्रीय नियमों का सम्मान करने के आधार पर रूस-चीन यथार्थ सहयोग की भारी निहित शक्ति और विशाल विकास की गुंजाइश है। चीन के विकास अनुभव रूस और विभिन्न देशों के लिए सीखने योग्य हैं।

सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने जोर दिया कि बेल्ट एंड रोड की पहल और पुतिन द्वारा प्रस्तुत बड़े यूरेशियाई साझेदारी संबंधों की विचारधारा से मिलती जुलती है। दोनों पहलों का एक दूसरे को समर्थन हो सकता है। इस की चर्चा में रूसी प्राकृतिक वैज्ञानिक अकादमी के अकादमिशन और रूस-चीन बेल्ट एंड रोड रणनीतिक विकास की अनुसंधान संस्था के अध्यक्ष छन चिकांग ने कहा कि दोनों पहलों के जोड़ने से चीन-रूस सहयोग की उच्चतम रणनीति बन सकेगी, चूंकि इन दो पहलों का लक्ष्य एक जैसा है। ये दो पहल बहुध्रुवीकरण के विकास में अहम भूमिका अदा कर सकेंगी।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी