शी चिनफिंग की किर्गिज़स्तान यात्रा द्विपक्षीय साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना को आगे बढ़ाएगी

2019-06-11 19:01:00

12 जून से चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग किर्गिज़स्तान की राजकीय यात्रा करेंगे और शांगहाई सहयोग संगठन के सदस्य देशों के राजाध्यक्षों की परिषद की 19वीं बैठक में हिस्सा लेंगे। शी चिनफिंग की यात्रा की पूर्वबेला में किर्गिज़स्तान स्थित चीनी राजदूत तू तेवन ने चीनी पत्रकारों के साक्षात्कार में कहा कि शी चिनफिंग की यात्रा चीन और किर्गिज़स्तान के बीच साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना को आगे बढ़ाएगी।

तू तेवन मध्य एशिया में कई साल तक काम कर चुकी हैं। उन की नज़र में चीन और किर्गिज़स्तान की जनता के बीच प्राकृतिक अच्छा अनुभव है। दोनों के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना के पिछले 27 सालों में द्विपक्षीय संबंध हमेशा ही अच्छे विकास की प्रवृत्ति पर बरकरार हैं।

हाल में किर्गिज़स्तान सरकार 2018 से 2040 के राष्ट्रीय विकास की रणनीति लागू कर रही है। बेल्ट एंड रोड को किर्गिज़स्तान की उपरोक्त रणनीति से जोड़ना दोनों देशों की सरकार की समान राजनीतिक अभिलाषा है। राजदूत तू ने कहा कि बेल्ट एंड रोड पहल के अधीनस्थ दोनों के सहयोग की भारी निहित शक्ति है। आगामी समय में दोनों देश व्यापार सहयोग, स्थानीय सहयोग और लोगों के संपर्क आदि क्षेत्रों में सहयोग को मज़बूत करेंगे।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की यात्रा के दौरान चीन और किर्गिज़स्तान दसेक सहयोग दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करेंगे। राजदूत तू को विश्वास है कि शी चिनफिंग की यात्रा चीन और किर्गिज़स्तान के संबंधों के विकास में मज़बूत प्रेरणा शक्ति डाल सकेगी।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी