किर्गिस्तान वासी चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की यात्रा से उत्सुक हैं

2019-06-12 19:01:00

किर्गिज़स्तान के राष्ट्रपति जिनवेकोव के निमंत्रण पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग 12 से 14 जून तक किर्गिस्तान की राजकीय यात्रा करेंगे और बिश्केक में आय़ोजित शांगहाई सहयोग संगठन के शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे।

किर्गिज़ संसद सदस्य और "अता-मेकेंन" के नेता अलमामबेत शिकमामातोव के मुताबिक, राष्ट्रपति शी चिनफिंग की यात्रा दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों और एससीओ के विकास को आगे बढ़ावा देगी। उन्होंने कहा कि राजनीति, अर्थव्यवस्था और एकीकरण के दृष्टिकोण से, राष्ट्रपति शी चिनफिंग की यात्रा का बहुत महत्व है। हम राष्ट्रपति शी की यात्रा का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, जो किर्गिस्तान के लिए एक प्रमुख राजनीतिक मामला है। हाल के वर्षों में, दोनों देश कई द्विपक्षीय परियोजनाओं पर एक दूसरे के साथ सहयोग बनाए रखते हैं, खासकर निवेश के क्षेत्र में। दोनों देशों ने द्विपक्षीय संबंधों के विकास को बढ़ावा देने के लिए दीर्घकालिक योजनाओं की एक श्रृंखला तैयार की है। राष्ट्रपति शी की वर्तमान यात्रा इस गति को मजबूत करती रहेगी और साथ ही एससीओ को एक नया मिशन देगी।

किर्गिस्तान के स्वतंत्र राजनीतिक विश्लेषक सालियेव का मानना है कि किर्गिस्तान मध्य एशिया के भीतरी इलाके में स्थित है, जिसका कोई बन्दरगाह नहीं है। चीन के साथ सहयोग को मजबूत करने से किर्गिस्तान भू-राजनीतिक प्रतिबंधों की अड़चन से टूट जाएगा। राष्ट्रपति शी की यात्रा द्विपक्षीय संबंधों के विकास को और बढ़ावा देगी।

एमोचुक किर्गिज़ मीडिया "द सिल्क रोड" के जिम्मेदार संपादकीय की सहायक है। उसने कहा कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग की यात्रा और एससीओ शिखर सम्मेलन के दौरान, "द सिल्क रोड" विशेष लेआउट बढ़ाकर इस प्रमुख कार्यक्रम की व्यापक रूप से रिपोर्ट करेगा।

चीन के हेबाई प्रांत से आयी ली या कई वर्षों से बिश्केक में रहती है, जो इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों के आयात और बिक्री करती हैं। उसने कहा कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग की यात्रा ने किर्जिस्तान में रहने वाले सभी चीनी लोगों को आनन्दित महसूस कराया। मैं दोनों देशों के बीच संबंधों का निरंतर विकास देखना चाहती हूं। जब दोनों देश के संबंध बेहतर होंगे, तब हमारे जीवन में और आशा जगेगी।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी