चीन-रूस संबंधों को नुकसान पहुंचाने वाली कोई भी कुचेष्टा सफल नहीं होगी

2019-06-13 11:31:01

चीनी विदेश मंत्रालय का नियमित न्यूज़ ब्रीफिंग 21 जून को आयोजित हुआ। संवाददाता ने पूछा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने हाल में सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच में चीन और अमेरिका के बीच व्यापार युद्ध की चर्चा में चीनी मुहावरे के हवाले से कहा कि जब दो बाघ पहाड़ पर लड़ रहे हैं, तब चतुर बंदर सुरक्षित स्थान में बैठकर देखता है। इसपर चीन का क्या रवैया है।

इसपर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कंग श्वांग ने कहा कि चीन-रूस संबंधों को नुकसान पहुंचाने वाली कोई भी कुचेष्टा सफल नहीं होगी। उन्होंने कहा कि पुतिन ने चीनी मुहावरे के हवाले के बाद कहा कि सब का बदलाव हो रहा है। इस चीनी मुहावरे में कही गई स्थिति भी बदल गई है। अमेरिका हमेशा मुक्त व्यापार और विश्व अर्थव्यवस्था के लोकतंत्र का ढोल पीटता है, लेकिन प्रतिस्पर्धा के मजबूत होने के चलते अमेरिका ने टैरिफ युद्ध जैसे तरह तरह के प्रतिबंध लगाना शुरू कर दिया। इससे विश्व अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचेगा। रूस निष्पक्ष और लोकतांत्रिक व्यापारिक नियम के लिए कोशिश करेगा। यह चीन-अमेरिका व्यापारिक विवाद पर रूस का सही रवैया है।

कंग श्वांग ने कहा कि चीन और रूस दोनों एकतरफा, संरक्षणवाद और धौंस जमाने के व्यवहार का दृढ़ता से विरोध करते हैं।

(ललिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी