सीआईसीए के संबंध में शिखर सम्मेलन में शी चिनफिंग ने दिया बयान

2019-06-15 17:31:00

एशिया में सहयोग और विश्वास बहाली के उपायों(सीआईसीए) के संबंध में पांचवां शिखर सम्मेलन 15 जून को तजाकिस्तान की राजधानी दुशांबे में आयोजित हुआ। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने सम्मेलन में बयान देकर विभिन्न पक्षों से उभय प्रयास कर एशिया की सुरक्षा व विकास की नयी परिस्थिति की रचना करने, आपसी सम्मान व विश्वास, सुरक्षा व स्थिरता, विकास व समृद्धि, खुलेपन व समावेशी और सहयोग व नवाचार के एशिया का निर्माण करने की अपील की।

शी चिनफिंग ने कहा कि एशिया हालिया दुनिया में सब से जीवित शक्ति और निहित शक्ति होने वाले क्षेत्रों में से एक है। साथ ही एशिया आर्थिक विकास के असंतुलन, सुरक्षा और प्रशासन की समस्याओं आदि की चुनौतियों का सामना भी कर रहा है। 2015 में उन्होंने एशियाई साझे भाग्य वाले समुदाय की पहल की प्रस्तुति के बाद एशियाई देशों ने साझे भाग्य वाले समुदाय के निर्माण में सहयोग को विचारधारा को मजबूत किया और सहयोग का अनुभव एकत्र किया है। नयी परिस्थिति में विभिन्न पक्षों को तय लक्ष्य पर कायम रहकर मौके व चुनौतियों का सामना करना चाहिए।

अपने बयान में शी चिनफिंग ने दोहराया कि एशियाई देशों को समान, समग्र, सहयोग और अनवरत नयी सुरक्षा विचारधारा पर कायम रहना चाहिए। विभिन्न देशों को प्रतिरोध के बजाए वार्तालाप पर कायम रहना चाहिए और विभिन्न परम्परागत और गैर-परम्परागत सुरक्षा समस्याओं का अच्छी तरह निपटारा करने की जरूरत है। खास तौर पर सभी को हर तरह की आतंकवादी कार्यवाइयों पर प्रहार करना चाहिए। उन्होंने विकास समस्या को हल करने के महत्व पर भी जोर दिया। उन्होंने विभिन्न पक्षों से व्यापार और निवेश के स्वतंत्रता व सुविधाकरण को आगे बढ़ाने और जल्द ही क्षेत्रीय तमाम आर्थिक साझेदारी संबंधों के समझौते संपन्न करने की अपील की। उन्होंने कहा कि चीन विभिन्न पक्षों के साथ बेल्ट एंड रोड अंतर्राष्ट्रीय सहयोग प्लेटफार्म का सहनिर्माण करेगा। विभिन्न पक्षों के चीनी बाजार में प्रवेश करने को और ज्यादा सुविधा देने के लिए इस साल चीन दूसरे अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो का आयोजन करेगा।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी