चीन और रूस के बीच संबंधों की स्थानपा की 70वीं जयंती पर प्रसिद्ध पेंटिंग और सुलेख प्रदर्शनी मोस्को में आयोजित

2019-06-23 15:31:00

चीन और रूस के बीच संबंधों की स्थानपा की 70वीं जयंती के उपलक्ष्य में प्रसिद्ध पेंटिंग और सुलेख प्रदर्शनी 21 जून को मोस्को में आयोजित हुई। चीनी राजदूत समेत अनेक चीन और रूस के अनेक अफसरों, कलाकारों और आम आदमियों ने प्रदर्शनी के उत्घाटन समारोह में भाग लिया।

रूस स्थित चीनी राजदूत ली ह्वेई ने कहा कि इधर के वर्षों में रूस लोगों में चीनी पेंटिंग और सुलेख के प्रति रुचि बढ़ती जा रही है। रूस में स्थापित 17 कन्फ्यूशियस अकादमियों में चीनी सुलेख कला का परिचय दिया जा रहा है। मोस्को की इस प्रदर्शनी में जो भाग लेते हैं, वे सब चीन में जाने माने पेंटिंग और सुलेख कलाकार हैं। आशा है कि इस प्रदर्शनी के आयोजन से दोनों देशों के कलाकारों और पेंटिंग और सुलेख शौकियों के बीच आदान प्रदान को बढ़ावा मिलेगा।

रूसी डूमा की शिक्षा व विज्ञान कमेटी की उपाध्यक्ष ल्यूबोव दुखानिना ने कहा कि चीन तेजी से विकास करने वाला देश है और यह इस के सांस्कृतिक नवाचार में भी प्रदर्शित है। दोनों देशों के बीच संबंधों के विकास के चलते अधिकाधिक रूसी लोगों को चीनी संस्कृति के प्रति रुचि आयी है। उनमें बिजनेसमैन, विद्वान और छात्र सब शामिल हैं। खासकर छात्रों में चीनी भाषा सीखने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। चीन और रूस न केवल अच्छे पड़ोसी हैं, बल्कि रणनीतिक साझेदार भी हैं। दोनों देशों के बीच सहयोग से विश्व की स्थितियों पर प्रभाव पड़ता है। विश्वास है कि सांस्कृतिक आदान प्रदान से द्विपक्षीय संबंधों को और अधिक मजबूत किया जाएगा।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी