चीन के श्वेतपत्र ने अमेरिका की झूठी बातों को तोड़ा – चीनी राजदूत

2019-06-28 17:01:02

27 जून को ब्रिटिश अख़बार द डेली टेलिग्राफ की वेबसाइट पर ब्रिटेन स्थित चीनी राजदूत ल्यू श्याओ मिंग का एक लेख प्रकाशित हुआ, जिस के अनुसार जून माह में प्रकाशित चीन सरकार के श्वेत पत्र ने चीन-अमेरिका व्यापार घर्षण की सच्चाइयों को उजागर किया और अमेरिका की झूठी बातों को तोड़ा।

चीनी राजदूत के लेख के अनुसार अमेरिका में कुछ राजनीतिकों ने यह दावा किया कि अमेरिका को चीन के साथ व्यापार में भारी नुकसान पहुंचा है और अमेरिका ने व्यापार घाटा से प्रति वर्ष चीन को पाँच खरब अमेरिकी डालर की आपूर्ति की है, लेकिन वास्तव में चीन-अमेरिका व्यापार उभय जीत वाला है। चीन-अमेरिका व्यापार में जो घाटा मौजूद है, इसका आधा भाग चीन में संचालित विदेशी कारोबारों से आया है। मिसाल के लिए वर्ष 2017 में चीन में संचालित अमेरिकी कारोबारों की आय 7 खरब अमेरिकी डालर तक रही, जबकि मुनाफा 50 अरब अमेरिकी डालर तक रही। इसलिए अमेरिका को व्यापारिक घाटा होने का दोष चीन पर मड़ना गलत है।

इस लेख में यह भी कहा गया है कि अमेरिका में कुछ लोगों का मानना है कि अधिक चुंगी लगाने से अमेरिका के पास धन-दौलत की भरमार हो जाएगी, पर यह मानना बिल्कुल भी सही नहीं है। अधिक चुंगी वसुलने से अमेरिका के अर्थतंत्र, कारोबारों और लोक हितों को नुकसान पहुंचेगा। अमेरिकी थिंक टैंक का विचार है कि अगर सभी चीनी वस्तुओं पर 25 प्रतिशत की चुंगी वसुली जाती है, तो अमेरिका की जीडीपी को 1.01 प्रतिशत कम होगा और 21.6 लाख रोजगार के मौके गंवा दिये जाएंगे। इसके साथ ही, अमेरिका ने विश्व व्यापार संगठन के नियमों को तोड़कर अनेक देशों के खिलाफ चुंगी को हथियार के रूप में प्रयोग किया है, जिससे विश्व की आर्थिक व्यवस्था और विश्वास को ठेस पहुंची है।

लेख के मुताबिक अमेरिका में कुछ राजनीतिकों ने चीन-अमेरिका व्यापार वार्ता विफल होने का दोष चीन पर मड़ा है और कहा है कि चीन अपने पुराने रुख से हट गया है। पर वास्तव में अमेरिका ने ही वादा खिलाफी की है। लेख में कहा गया है कि व्यापार युद्ध के बादल छा जाने की स्थिति में हम अधिकांश देशों से खामोश न रहने की अपील करते हैं। हमें संरक्षणवाद, एकतरफावाद का विरोध करना और विश्व व्यापार संगठन के अधिकार की रक्षा करनी चाहिए।

( हूमिन )

 

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी