टिप्पणी:चीन ने उच्च गुणवत्ता वाले विश्व अर्थतंत्र के विकास के लिए अहम कदम घोषित किये

2019-06-28 22:31:00

जी 20 ओसाका शिखर सम्मेलन में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने भाषण देते हुए यह कहा कि चीन अपने बाजार को खोलने की दिशा में पाँच अहम कदम उठाएगा।

इस साल अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संकट को 10 साल हो गये। विश्व अर्थतंत्र एक बार फिर चौराहे पर आ खड़ा हुआ है। आईएमएफ की अध्यक्ष क्रिस्टिन लागार्डे ने हाल में कहा कि दो साल पहले विश्व अर्थतंत्र के अधिकांश भाग में वृद्धि देखने को मिली, लेकिन इस साल विश्व अर्थतंत्र का यह भाग मंदी से ग्रस्त रहा है। इस समय विभिन्न मुख्य अर्थतंत्र का विकल्प महत्वपूर्ण है।

शी चिनफिंग द्वारा घोषित किये गये पाँच कदमों में शामिल हैं यानी कि विदेशी निवेश के लिए 2019 संस्करण की नकारात्मक सूची जारी की जाएगी, और चीन कृषि, खनन, विनिर्माण और सेवा कारोबारों को अधिक तौर पर खोला जाएगा। चीन अपने कर वसुली स्तर को और कम करेगा। चीन व्यापार वातावरण में सुधार लाने के लिए अगले वर्ष से नया विदेशी निवेश कानून लागू करेगा। चीन विदेशी निवेशकों के लिए नकारात्मक सूची में जो निर्धारित नहीं है, उन सभी प्रतिबंधों को हटाएगा। अंततः चीन क्षेत्रीय आर्थिक साझेदार संबंध संधि, चीन-यूरोप निवेश संधि तथा चीन-जापान-दक्षिण कोरिया स्वतंत्र व्यापार समझौते की वार्ता में गति देगा।

बीते एक ही साल में अमेरिका ने चीन के खिलाफ व्यापार घर्षण छेड़ा। इसके मुकाबले में चीन ने खुलेपन का विस्तार करने के सिलसिलेवार कदम उठाये हैं। इस साल पहले पाँच महीनों में चीन का अर्थतंत्र सुभीतापूर्ण रूप से चल रहा है। माल व्यापार की रकम राशि 120 खरब युआन तक रही, जो पिछले साल की समान अवधि से 4.1 प्रतिशत अधिक रहा। इसी दौरान चीन में लगाये गये विदेशी निवेश की संख्या भी 3 खरब 69 अरब युआन तक रही जो पिछले साल से 6.8 प्रतिशत अधिक रही। चुंगी व व्यापारिक दीवार होने के बावजूद चीन ने अविचल तौर पर अपने द्वार को और अधिक खोल दिया है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी