चीन-अमेरिका शिखर वार्ता पर ध्यान

2019-06-30 16:31:00

चीन और अमेरिका के नेताओं ने 29 जून को जापान के ओसाका जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान वार्ता की, जिसने विभिन्न देशों का ध्यान खींचा।

अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक चीन और अमेरिका द्वारा समानता और आपसी सम्मान के आधार पर आर्थिक और व्यापारिक वार्ता की बहाली होना अमेरिका के अर्थतंत्र और बाज़ार को स्थिर बनाने की प्रेरणा शक्ति होगी। जबकि अमेरिकी औद्योगिक जगत के लोगों ने वार्ता का स्वागत किया। वॉशिंगटन पोस्ट, न्यूयॉर्क टाइम्स, वॉल स्ट्रीट डेली और अमेरिकी सीएनएन आदि प्रमुख अमेरिकी मीडियाओं ने अपनी सूर्खियों में चीन-अमेरिका शिखर वार्ता में मिली उपलब्धियों की रिपोर्टताज की। वॉल स्ट्रीट डेली ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि अमेरिका और चीन ने आर्थिक और व्यापारिक वार्ता की बहाली करने पर मंजूरी दी। अमेरिका चीन के उत्पादकों पर नये टैरिफ़ नहीं लगाएगा। यह अमेरिका के अर्थतंत्र खास तौर पर बाज़ार के लिए एक अच्छी खबर है।

अमेरिकी नेशनल खुदरा संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डेविड फ्रेंच ने वक्तव्य जारी कर कहा कि संघ आशा करता है कि अमेरिका-चीन शिखर वार्ता की उपलब्धि दोनों देशों के रचनात्मक सहयोग और वार्तालाप ला सकेगी, ताकि दोनों के बीच आर्थिक और व्यापारिक विवाद का हल करने के तरीके की खोज की जा सके।

फ्रांस, अर्जेंटीना, चिली, कोलंबिया, पेरू, उरुग्वे आदि देशों की मीडियाओं ने भी चीन-अमेरिका शिखर वार्ता का उच्च मूल्यांकन किया और आशा जताई कि विश्व अर्थतंत्र को स्थिर बनाने और विश्व स्वतंत्र व्यापार तंत्र की रक्षा के लिए चीन और अमेरिका यथाशीघ्र ही व्यापारी विवाद को समाप्त करेंगे।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी