दिल्ली सरकार ने वर्षा जल संचयन को अनिवार्य बनाया

2019-07-03 10:02:00

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 2 जुलाई को घोषणा की कि उनकी सरकार ने शहर में अपने सभी सरकारी भवनों के लिए वर्षा जल संचयन को अनिवार्य बनाने का फैसला किया है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्विटर कर कहा कि दिल्ली कैबिनेट ने अपने सभी सरकारी भवनों के लिए वर्षा जल संचयन को अनिवार्य बनाने का फैसला किया है।

केजरीवाल ने कहा कि विभागों के प्रमुखों को निर्देश दिया गया है कि वे ऐसी इमारतों में सिस्टम स्थापित करें, जिनके पास यह नहीं है और मौजूदा सिस्टम को साफ़ किया जाए और मानसून की बारिश से पहले तैयार रखा जाए। मानसून के इस सप्ताह भारतीय राजधानी पहुंचने की बड़ी संभावना है।

केजरीवाल ने यह भी कहा कि इस मानसून का परीक्षण करने के लिए यमुना नदी में प्राकृतिक जल संग्रहण किया जाएगा। दिल्ली को अपनी पानी की मांगों को पूरा करने के लिए आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह कदम शुरू किया गया है।

ध्यान रहे भारत में वर्षा जल संचयन आवश्यक है क्योंकि देश के कई दक्षिणी हिस्सों, विशेष तौर पर तमिलनाडु और कर्नाटक में गंभीर जल संकट का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा, आने वाले वर्षों में 20 से अधिक प्रमुख भारतीय शहरों में भूजल की कमी का सामना करना पड़ रहा है।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी