शी चिनफिंग और तुर्की के राष्ट्रपति एर्डोआन के बीच वार्ता

2019-07-03 11:02:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 2 जुलाई को पेइचिंग के जन वृहद भवन में तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैय्यप एर्डोआन के साथ वार्ता की।

शी चिनफिंग ने कहा कि चीन और तुर्की महत्वपूर्ण नवोदित बाज़ार देश और बड़े विकासशील देश हैं। दोनों पक्षों के बीच रणनीति सहयोग को आगे बढ़ाने का बड़ा महत्व है। दोनों देशों को आपसी राजनीतिक विश्वास, रणनीतिक संपर्क को आगे बढ़ाना चाहिए, प्रभुसत्ता, स्वतंत्रता और प्रादेशिक अखंडता के मामले पर एक दूसरे के केंद्रिय हित और महत्वपूर्ण चिंता का सम्मान करना चाहिए, व्यवहारिक कार्यवाही से आतंकवाद विरोधी सुरक्षा सहयोग को मज़बूत करना चाहिए, विकास की रणनीति से जोड़ने और व्यवहारिक सहयोग को आगे बढ़ाना चाहिए, व्यापार, विज्ञान और तकनीक, ऊर्जा, बुनियादी संस्थापनों की महत्वपूर्ण परियोजनाओं में सहयोग को बढ़ावा देना चाहिए, दोनों देशों की जनता के बीच समझ को मज़बूत करना चाहिए।

शी चिनफिंग ने कहा कि वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय स्थिति में बड़ा बदलाव हो रहा है। चीन और तुर्की को संयुक्त राष्ट्र के केंद्र, अंतर्राष्ट्रीय कानून के आधार वाली अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था की दृढ़ता से रक्षा करनी चाहिए, बहुपक्षवाद और अंतर्राष्ट्रीय निष्पक्षता और न्याय, विश्व व्यापार संगठन के केंद्र वाली बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था की रक्षा करनी चाहिए, दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदार संबंध गहराते हुए दोनों देशों और व्यापक विकासशील देशों के समान हितों की गारंटी करनी चाहिए।

एर्डोआन ने कहा कि तुर्की और चीन के बीच मित्रता का पुराना इतिहास है और आज ये और मजबूत हो रही है। घनिष्ठ तुर्की-चीन संबंध क्षेत्रीय शांति और समृद्धि के लिए महत्वपूर्ण है। तुर्की चीन के साथ संबंध का विकास करने और चीन के साथ सहयोग करने में जुटा रहेगा। तुर्की दृढ़ता से एक चीन की नीति पर कायम रहेगा, उग्रवाद का विरोध करता है। तुर्की चीन के साथ राजनीतिक विश्वास, सुरक्षा सहयोग को आगे बढ़ाना चाहता है, दृढ़ता से बेल्ड एंड रोड निर्माण का समर्थन करता है, विभिन्न क्षेत्रों में चीन के साथ सहयोग को आगे बढ़ाना चाहता है।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी