हांगकांग मामले को लेकर चीन का रुख जताया- ब्रिटेन में चीनी राजदूत

2019-07-04 14:32:00

ब्रिटेन स्थित चीनी राजदूत ल्यू श्याओमिंग ने स्थानीय समय के अनुसार 3 जुलाई को दूतावास में संवाददाता सम्मेलन बुलाकर हाल में हांगकांग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र में विधान सभा पर हुए हिंसक हमले को लेकर चीन का रुख व्यक्त किया और ब्रिटेन के हांगकांग मामले और चीन के अंदरूनी मामले पर हस्तक्षेप करने पर बड़ा असंतोष जताया और इसका दृढ़ विरोध किया।

25 देसी-विदेशी समाचार एजेंसियों के 40 से अधिक संवाददाता सम्मेलन में उपस्थित हुए। राजदूत ल्यू श्याओमिंग ने कहा कि 1 जुलाई को हांगकांग की मातृभूमि में वापसी और विशेष प्रशासनिक क्षेत्र की स्थापना का जयंती दिवस है। लेकिन इसी दिन कुछ चरमपंथियों ने हिंसक तरीके से विधान सभा की इमारत पर हमला किया और इसमें रखे उपकरणों को नष्ट किया। उनकी इस हरकत से बोलने की आज़ादी और शांतिपूर्ण प्रदर्शन के सीमा को धक्का लगा है, उनकी इस हरकत ने हांगकांग के कानूनी शासन को पैरों तले रौंदा है और हांगकांग सामाजिक स्थिति को नुकसान पहुंचाया। चीन की केन्द्र सरकार उन लोगों के मामले की जांच करने और उन्हें कानून के अनुसार सज़ा देने में हांगकांग की सरकार का समर्थन करती है जिन्होंने वहां के कानून का उल्लंघन किया है। इसके साथ ही चीन की केंद्र सरकार हांगकांग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र की सरकार का इन मामलों में भी समर्थन करती है जिसमें हांगकांग की सामाजिक स्थिति का जल्दी ही सामान्यीकरण हो, नागरिकों की जान माल, हांगकांग की समृद्धि और स्थिरता की रक्षा की जाए।

ल्यू श्याओमिंग ने कहा कि हांगकांग मामले पर ब्रिटिश सरकार ने गलत पक्ष चुना। कुछ लोगों ने न केवल अनुचित बयान जारी कर हांगकांग मामले में हस्तक्षेप किया, बल्कि कानून का हिंसात्मक तरीके से उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों का समर्थन किया। यहां तक कि वे हांगकांग के कानूनी शासन में हस्तक्षेप करना भी चाहते हैं, विशेष प्रशासनिक क्षेत्र की सरकार के अपराधियों को कानून के अनुसार सज़ा देने में बाधा डालना चाहते हैं। चीन ने ब्रिटेन के सामने कई बार गंभीरता से ये मामला उठाया।

ल्यू श्याओमिंग ने बल देते हुए कहा कि हांगकांग चीन का विशेष प्रशासनिक क्षेत्र है, न कि ब्रिटेन के औपनिवेशिक शासन में हांगकांग। हांगकांग का मामला चीन का अंदरूनी मामला है। किसी भी देश, संगठन या व्यक्ति के पास इसमें हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है। चीन ब्रिटेन के हांगकांग मामले और चीन के अंदरूनी मामले में हस्तक्षेप करने पर बड़ा असंतोष और दृढ़ विरोध करता है।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी