अमेरिका और तालिबान की वार्ता ने वास्तविक प्रगति हासिल की

2019-07-07 15:01:00

अफ़गानिस्तान सुलह के लिए अमेरिकी सरकार के विशेष प्रतिनिधि ज़ाल्मेय खलीलज़ाद ने घोषणा की कि कतर की राजधानी दोहा में आयोजित अमेरिका और तालिबान की सातवीं बातचीत ने वास्तविक प्रगति हासिल की है।

खलीलज़ाद ने सोशल मीडिया पर बताया कि अमेरिका और तालिबान ने 29 जून को सातवीं वार्ता शुरू की। दोनों पक्षों ने आतंकवाद-विरोधी गारंटी, सैनिक की वापसी, अफगानिस्तान में आंतरिक संवाद और स्थायी और व्यापक युद्धविराम के बारे में वास्तविक प्रगति हासिल की। यह दोनों पक्षों के बीच "सबसे फलदायक वार्ता" है।

तालिबान की खबर के अनुसार कतर और जर्मनी एक साथ अफगानिस्तान में आंतरिक संवाद गतिविधि आयोजित करेंगे, जो 7 तारीख़ को दोहा में आयोजित की जाएगी और 60 से अधिक लोग इस संवाद में शामिल होंगे। खलीलज़ाद ने कहा कि अफगानिस्तान में आंतरिक संवाद का समर्थन करने के लिए अमेरिका और तालिबान के बीच इस बार वार्ता को 7 से 8 तारीख़ तक दो दिनों के लिए निलंबित किया जाएगा। उसका विचार है कि यह वार्ता अफगानिस्तान की शांति प्रक्रिया में एक "निर्णायक घटना" है।

वर्ष 2001 में 11 सितंबर को आतंकवादी हमले के बाद अमेरिका ने अफगानिस्तान में युद्ध शुरू किया और तालिबान शासन को उखाड़ फेंका। युद्ध के बाद अफगानिस्तान की स्थिति अशांत हो गई। हाल के वर्षों में तालिबान अफगानिस्तान में मज़बूत हो रहा है, अमेरिकी सरकार को इसके साथ बातचीत करना पड़ रहा है।

आलिया

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी