भारत का पहला स्वदेशी विमान वाहक पोत 2021 में नौसेना को मिल जाएगा : वाइस एडमिरल ए.के. सक्सेना

2019-07-09 11:33:00

भारतीय नौसेना के वाइस एडमिरल ए.के. सक्सेना ने 8 जुलाई को कहा कि भारत द्वारा निर्मित पहला घरेलू विमान वाहक पोत विक्रांत 2021 की शुरूआत में भारतीय नौसेना को मिल जाएगा। अनुमान है कि 2023 से इसका औपचारिक रूप से इस्तेमाल किया जा सकेगा।

उस दिन नयी दिल्ली में आयोजित एक संगोष्ठी में कहा गया कि विक्रांत विमान वाहक पोत का बुनियादी परीक्षण अगले साल की फरवरी से मार्च तक किया जाएगा, फिर समुद्री परीक्षण किया जाएगा। उड़ान परीक्षण 2021 में नौसेना को सौंपने के बाद शुरू किया जाएगा।

गौरतलब है कि विक्रांत की लम्बाई करीब 260 मीटर और चौड़ाई 60 मीटर है, जो 30 विमानों को ले सकता है। इस के निर्माण के दौरान खर्चा के उन्नत होने, उपकरणों की खरीदारी में समस्या आने और निर्माण अनुभव के अभाव आदि कारणों के चलते विमान वाहक पोत के निर्माण में निरंतर देरी होती रही है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी