दस वर्ष में पहली बार अमेरिकी फेडरल रिज़र्व की ब्याज दरों में कटौती

2019-08-01 15:01:01

अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने 31 जुलाई को घोषणा की कि फेडरल फंड्स रेट के लक्ष्य को 25 आधार अंकों को घटाकर 2 प्रतिशत से 2.25 प्रतिशत तक पहुंचे, दिसंबर 2008 से फेडरल रिज़र्व ने बाजार की उम्मीदों के अनुरूप पहली बार ब्याज दर में कटौती की।

फेडरल रिज़र्व ने उस दिन एक बयान जारी करके कहा कि जून से जुलाई तक की जानकारी के अनुसार अमेरिकी अर्थव्यवस्था ने मध्यम विस्तार बनाए रखी है, रोज़गार बाज़ार में वृद्धि तेज़ है और वर्ष की शुरुआत की तुलना में घरेलू खपत व्यय में वृद्धि हुई है। लेकिन कॉर्पोरेट फिक्स्ड एसेट इनवेस्टमेंट कमज़ोर रहा है।

बयान में बताया गया कि वैश्विक स्थिति द्वारा अमेरिकी आर्थिक दृष्टिकोण पर हुए प्रभावों और मध्यम मुद्रास्फीति दबावों के कारण फेडरल रिजर्व ने ब्याज दर में कटौती करने का फैसला लिया। पर अमेरिकी आर्थिक दृष्टिकोण के सामने अनिश्चितता अब भी मौजूद है। फेडरल फंड्स रेट के भविष्य के रुझान के बारे में फेडरल रिज़र्व ने कहा कि अमेरिकी आर्थिक स्थिति पर ध्यान देना जारी रखेगा और अमेरिकी आर्थिक विस्तार को बनाए रखने के लिए उचित कार्रवाई करेगा।

फेडरल रिजर्व के अध्यक्ष जेरमी पॉवेल ने उस दिन संवाददाता सम्मेलन में कहा, वैश्विक आर्थिक मंदी और व्यापार नीति अनिश्चितता से उत्पन्न ख़तरों से बचाव के लिए फेडरल रिज़र्व ने ब्याज दर में कटौती की। ताकि अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर नकारात्मक प्रभाव न पड़े और अमेरिकी मुद्रास्फीति को 2% पर लाने के लिये तेज़ी से काम किया जाए।

पीटरसन इंस्टीट्यूट फॉर इंटरनेशनल इकॉनमिक्स में वरिष्ठ साथी जोसेफ़ गैगनोन ने संवाददाता को बताया कि ट्रम्प की वित्त प्रोत्साहन नीति का प्रभाव मूल रूप से गायब है। अमेरिका की आर्थिक वृद्धि 2% स्तर पर वापस लौट आएगी। व्यापार तनाव अमेरिकी अर्थव्यवस्था के सामने मुख्य ख़तरा है।

(आलिया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी