अमेरिका के आईएनएफ़ संधि से बाहर निकलने से पैदा हुए खतरों को लेकर रूस कदम उठाएगा

2019-08-06 15:31:01

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 5 अगस्त को कहा कि अमेरिका के इंटरमीडिएट-रेंज परमाणु बल (आईएनएफ़) संधि से बाहर निकलने पर बड़े खतरे पैदा हुए हैं। रूस इस वास्तविक खतरों का विरोध करने के लिए कई मिसाइलों का इस्तेमाल करेगा और अमेरिका की कम दूरी की मिसाइलों की तैनाती को लेकर प्रतिक्रिया भी देगा।

राष्ट्रपति पुतिन ने उसी दिन मास्को में रूसी संघीय सुरक्षा परिषद के कई स्थायी सदस्यों के साथ हुई एक बैठक में कहा कि अमेरिका एकतरफ़ा तौर पर आईएनएफ़ संधि से बाहर निकल गया है और हथियारों के नियंत्रण के क्षेत्र में इस मौलिक संधि को तोड़ दिया है, जिसने सबसे गंभीर तरीके से दुनिया की स्थिति को और अधिक जटिल बना दिया है। इससे गंभीर खतरे पैदा हो गए हैं। इस मामले की जिम्मेदारी अमेरिका को ही लेनी है। पुतिन ने रक्षा मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और विदेशी खुफिया एजेंसी को अमेरिका के बाद में कम दूरी की मिसाइलों के अनुसंधान एवं विकास, उत्पादन और तैनाती में उठाए गए कदमों पर पूरा ध्यान देना का निर्देश दिया। रूस इसका जवाबी कदम भी उठाएगा।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी