"विनिमय दर में हेरफेर देश" तर्क के पीछे राजनीतिक उद्देश्य है – ब्रिटिश लोकमत

2019-08-09 16:31:02

ब्रिटिश मीडिया में प्रकाशित कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका द्वारा चीन को "विनिमय दर में हेरफेर देश" के रूप में नामबद्ध करने के पीछे राजनीतिक उद्देश्य मौजूद है।

ऑक्सफोर्ड आर्थिक अनुसंधान संस्थान के शोधकर्ता लूइस केडर्स का मानना है कि हाल ही में आरएमबी में गिरावट अमेरिका द्वारा चीनी वस्तुओं पर अधिक कर वसुली का परिणाम है। और इस का मतलब है कि विश्व बाजार और नीति निर्माताओं को अधिक बाजारीकरण उन्मुख आरएमबी विनिमय दर की आदत होनी चाहिये। उधर फाइनेंशियल टाइम्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन को "विनिमय दर में हेरफेर देश" बताने का उद्देश्य है कि अमेरिका अधिक कर वसुली के लिए राजनीतिक कारण की खोज करना चाहता है।

ब्रिटेन के राष्ट्रीय आर्थिक और सामाजिक अनुसंधान संस्थान के शोधकर्ता माओ शू शिन ने कहा कि आरएमबी की गिरावट चीन के अस्थायी विनिमय दर नीति के आधार पर उत्पन्न सामान्य हेरफेर है। लेकिन अमेरिका ने आर्थिक कारण से नहीं, बल्कि राजनीतिक कारण से ही चीन को "विनिमय दर में हेरफेर देश" के रूप में नामबद्ध किया है। व्यापार घर्षण से अमेरिकी डॉलर विश्व के दूसरे मुख्य मुद्राओं की तुलना में मजबूत बना है। उधर बीते एक ही साल में यूरो का मूल्य स्पष्ट रूप से निम्न होने लगा है।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी