भारत व चीन को करीब लाने का एक और तरीका है योग- राजदूत मिस्री

2019-08-19 10:32:00

पेइचिंग अंतरराष्ट्रीय बागबानी एक्सपो में भारतीय उद्यान की झलक

पेइचिंग में पिछले कुछ महीनों से बागबानी एक्सपो जारी है। जिनमें विश्व के कई देश हिस्सा ले रहे हैं। यह एक्सपो दुनिया के सबसे बड़े और लोकप्रिय एक्सपो में से एक माना जाता है। विशाल क्षेत्र में फैले एक्सपो में विभिन्न देशों के आकर्षक उद्यान बने हुए हैं। भारत भी एक महत्वपूर्ण भागीदार के रूप में इस एक्सपो में शिरकत कर रहा है। भारत का उद्यान लोगों के बीच सबसे अधिक लोकप्रिय उद्यानों में से एक है। भारतीय राजदूत विक्रम मिस्री समेत कई राजनयिक अधिकारियों व चीनी प्रतिनिधियों ने इंडिया डे के मौके पर भारतीय उद्यान का दौरा भी किया।

इस अवसर पर चाइना रेडियो इन्टरनेशनल (सीआरआई) के संवाददाता ने राजदूत विक्रम मिस्री के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा कि योग चीन व भारत को करीब लाने का एक और तरीका है, यही वजह है कि बागबानी एक्सपो में भारतीय उद्यान की थीम योग पर केंद्रित की गयी है। बकौल मिस्री, जैसा कि हम जानते हैं कि पेइचिंग अंतर्राष्ट्रीय बागबानी एक्सपो का उद्घाटन अप्रैल महीने में हुआ था। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने उस समारोह में शिरकत की थी। भारत इस एक्सपो में उत्साह के साथ भाग ले रहा है। हमारा हमेशा मानना है कि प्रकृति और मानव के बीच में जो रिश्ता है, वह एक बहुत ही महत्वपूर्ण रिश्ता है। उसी को दर्शाने के लिए एक्सपो में जो भारतीय बाग़ स्थापित किया गया है, उसमें वो सभी चीजें मौजूद हैं। जैसे कि स्टेप-वेल(बावड़ी) लगाया है, जो बौद्ध धर्म की सीख को बताता है। इसके साथ ही दूसरी आर्ट एंड क्राफ्ट वाली वस्तुएं भी यहां प्रदर्शित की गयी हैं।

सीआरआई संवाददाता को इन्टरव्यू देते हुए भारतीय राजदूत विक्रम मिस्री

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी