चंद्रयान-2 लैंडर से सफलतापूर्वक हुआ अलग

2019-09-03 11:03:00

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन(इसरो) ने 2 सितंबर को कहा कि भारतीय " चंद्रयान-2 " संसूचक द्वारा लिए गए लैंडर को उस दोपहर सफलतापूर्वक ऑर्बिटर से अलग कर दिया गया और वह चंद्रमा की सतह की ओर उड़ने लगा। इसका मतलब है कि " चंद्रयान-2" मिशन अंतिम चरण में प्रवेश कर चुका है।

इसरो ने एक बयान में कहा कि चंद्रयान-2 लैंडर भारतीय समयानुसार एक बजकर पंद्रह मिनट पर ऑर्बिटर से अलग हो गया। योजना के मुताबिक लैंडर के अलग होने के बाद 3 और 4 तारीख़ को फिर से दो बार ट्रैक को बदल दिया जाएगा। अंत में 7 तारीख़ को लैंडर चंद्रमा की सतह पर उतरेगा और ऑर्बिटर वर्तमान कक्षा पर उड़ना जारी रखेगा।

गौरतलब है कि चंद्रयान-2, 22 जुलाई को लॉन्च किया गया था और इसका वजन 3850 किलोग्राम है, जिसमें ऑर्बिटर, लैंडर और चंद्रमा पर चलनेवाला यंत्र और 10 से अधिक विभिन्न अनुसंधान उपकरण लगाए गए हैं।

भारत ने 2008 में पहली बार चंद्रयान-1 को सफलतापूर्वक लॉन्च किया था और वहां से तमाम चित्र और जांच के आंकड़े प्राप्त किए थे।

(आलिया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी