यूएनसीसीडी की 14वीं बैठक भूमि समस्या पर चिंतित

2019-09-03 15:32:00

मरुस्थलीकरण की रोकथाम पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (यूएनसीसीडी) की 14वीं बैठक भारत की राजधानी नई दिल्ली में शुरु हुई। लगभग दो सप्ताह तक चलने वाली इस बैठक का फोकस भूमि क्षरण और मरुस्थलीकरण पर होगा।

यूएनसीसीडी के कार्यकारी सचिव इब्राहिम थियाव ने कहा कि मानव गतिविधियों के कारण से हुए भूमि क्षरण ने दुनिया भर में लगभग 3.2 बिलियन लोगों की आजीविका को प्रभावित किया है। लेकिन हाल के वर्षों में, सभी देशों ने भूमि उपयोग में सुधार के लिए कार्रवाई की है। उन्होंने सभी सदस्य देशों से भूमि क्षरण और मरुस्थलीकरण से निपटने के प्रयासों को जारी रखने का आह्वान किया।

भारतीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि मिट्टी की गुणवत्ता की दीर्घकालिक स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए भूमि उपयोग और प्रबंधन विधियों के नवाचारों पर जोर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि मानव गतिविधियों ने जलवायु परिवर्तन, भूमि क्षरण और जैव विविधता के नुकसान जैसी समस्याओं को जन्म दिया। इन समस्या का समाधान केवल हम मनुष्य की पूरी मेहनत से किया जा सकता है।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी