टिप्पणीः तर्कसंगत वार्ता ही समस्या की चाबी है

2019-09-05 16:32:00

चीन और अमेरिका ने अक्तूबर माह की शुरूआत में 13वीं चीन-अमेरिका आर्थिक व व्यापारिक उच्च स्तरीय वार्ता करने की मंजूरी दी। चीन और अमेरिका के बीच व्यापारिक विवाद के तीव्र होने की पृष्ठभूमि में दोनों ने आगे वार्ता करने का निर्णय लिया। यह दोनों देशों के लोकमतों से मेल खाता है, साथ ही अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्षा से भी मेल खाता है। दोनों पक्षों ने सक्रिय संकेत दिये हैं।

इतिहास और तथ्य से पूर्ण रूप से साबित है कि व्यापारिक युद्ध का कोई विजेता नहीं है। टैरिफ़ को निरंतर बढ़ाने से समस्या का हल नहीं किया जा सकता है। आर्थिक व व्यापारिक क्षेत्र में चीन और अमेरिका का मतभेद और विवाद आखिरकार वार्ता व सलाह मश्विरे के जरिए हल किया जाना चाहिए।

अगर दोनों पक्ष शांत रुख से इस समस्या का निपटारा करते हैं, सहयोग व साझी जीत की खोज करते हैं, तो समस्या का हल करने की संभावना होगी। दोनों को वार्ता करने की सदिच्छा होनी चाहिए, साथ ही वार्ता करने की कार्यवाई भी होनी चाहिए।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी