ब्रिटिश संसद ने "बिना किसी समझौते के ही यूरोपीय संघ छोड़ने" को रोकने के लिये विधेयक पारित किया

2019-09-07 16:02:00

ब्रिटिश संसद की ऊपरी सदन ने 6 सितंबर को "बिना किसी समझौते के ही यूरोपीय संघ छोड़ने" को रोकने के लिये एक विधेयक पारित किया। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के हस्ताक्षर के बाद यह विधेयक कानून बन जाएगा।

इस विधेयक के पारित होने का अर्थ है कि कानूनी स्तर पर, ब्रिटिश प्रधान मंत्री बौरिस जॉनसन के "बिना किसी समझौते के ही यूरोपीय संघ छोड़ने" का प्रस्ताव साकार नहीं होगा। यदि "ब्रेक्सिट" की समयसीमा 31 अक्टूबर से पहले यूके और यूरोपीय संघ किसी समझौते पर नहीं पहुंचते हैं, तो प्रधानमंत्री को "ब्रेक्सिट" स्थागित करने के लिये यूरोपीय संघ को एक अनुरोध पत्र भेजना होगा।

संसद की ऊपरी सदन ने 6 तारीख को विधेयक पारित कर दिया, जिसके चलते जॉनसन का "ब्रेक्सिट" कार्यक्रम फिर से अटक गया। जॉनसन ने इससे पहले कई बार दोहराया है कि चाहे समझौता की स्थिति कैसी भी हो, ब्रिटेन 31 अक्टूबर को यूरोपीय संघ को छोड़ देगा।

यूके में सबसे बड़ी विपक्षी लेबर पार्टी के नेता कॉर्बिन ने 6 तारीख को लिबरल डेमोक्रेट्स और स्कॉटिश नेशनल पार्टी जैसे विपक्षी नेताओं के साथ एक बैठक बुलाई। उनके अनुसार, संसद की निचली सदन 9 सितंबर को जॉनसन के अग्रिम रूप से आम चुनाव करवाने के प्रस्ताव पर मतदान करेंगे।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी