संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में एकतरफा प्रतिबंधों के लिए पश्चिमी देशों की निंदा

2019-09-13 16:02:00

इसमें भाग लेने वाले विभिन्न देशों और गैर-सरकारी संगठनों ने एकतरफा प्रतिबंधों के लिए पश्चिमी देशों की निंदा की और जोर देते हुए कहा कि उन की कार्यवाही संयुक्त राष्ट्र के चार्टर का उल्लंघन करती है, अंतर्राष्ट्रीय निष्पक्षता और न्याय को नुकसान पहुँचाती है। यह स्वीकृत देशों के लोगों के लिए एक "सामूहिक दंड" है।

चीनी प्रतिनिधि ने कहा कि व्यक्तिगत देश बल-राजनीति को लागू करते हैं, एकतरफा जबरदस्ती उपाय अपनाते हुए जानबूझकर अन्य देशों के खिलाफ आर्थिक नाकेबंदी, वित्तीय प्रतिबंधों और अन्य धमकाने वाली हरकत करते हैं। जिससे अन्य देश अपने स्वयं के लोगों की जरूरतों के अनुसार मानवाधिकारों को बढ़ावा देने और उनकी रक्षा करने में गंभीर रूप से बाधा डाली गयी। अंतरराष्ट्रीय समुदाय को संबंधित रुझान पर अत्यधिक सतर्क रहना चाहिए। चीन किसी भी तरह, किसी भी कारण के एकतरफा बलपूर्वक उपायों का विरोध करता है। चीन ने संबंधित देशों से इस तरह की प्रभुत्वावादी हरकत को तुरंत ही बन्द करने का आग्रह भी किया।

50 देशों और गैर-सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाषण देते हुए एकतरफा प्रतिबंध लगाने के लिए अमेरिका और अन्य पश्चिमी देशों की आलोचना की।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी