विकासशील देशों ने लोकतांत्रिक और निष्पक्ष अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था स्थापित करने की अपील की

2019-09-14 15:02:00

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 42वें सम्मेलन के दौरान लोकतांत्रिक और निष्पक्ष अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था के विशेषज्ञों के साथ वार्ता 12 और 13 सितंबर को आयोजित हुई। व्यापक विकासशील देशों ने लोकतांत्रिक और निष्पक्ष अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था स्थापित करने की अपील की।

चीनी प्रतिनिधि ने कहा कि मानवाधिकार का सम्मान और गारंटी लोकतांत्रिक और निष्पक्ष अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था का महत्वपूर्ण विषय है। अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार सहयोग में विभिन्न देशों को संयुक्त राष्ट्र चार्टर के सिद्धांत और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के बुनियादी नियम का पालन करते हुए अन्य देशों की प्रभुसत्ता, स्वतंत्रता और प्रादेशिक अखंडता का सम्मान करना चाहिए और राजनीतिकरण और दोहरे मापदंड को छोड़ना चाहिए। विकसित देशों को और ज्यादा जिम्मेदारी निभाने के साथ साथ नागरिक जीवन, शिक्षा और चिकित्सा जैसे बुनियादी संस्थापनों के निर्माण में विकासशील देशों को वित्तीय सहायता देना चाहिए।

30 से अधिक देशों और गैरसरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों ने कहा कि लोकतांत्रिक और निष्पक्ष अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था की स्थापना में नागरिकों की हिस्सेदारी और लोकतांत्रिक निर्णय की गारंटी देना चाहिए। इसके साथ अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संधि समेत अंतर्राष्ट्रीय कानून का पालन किया जाना चाहिए। पाकिस्तान, क्यूबा, वेनेज़ुएला, उरुग्वे और सीरिया समेत कई देशों के प्रतिनिधियों ने एकतरफा कदम से अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था पर पड़े बुरे असर को लेकर चिंता व्यक्त की।

(ललिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी