अमेरिका द्वारा मानवाधिकार के बहाने से चीन की शिनच्यांग नीति में हस्तक्षेप करने का विरोध करता चीन

2019-09-19 19:32:00

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने 19 सितंबर को कहा कि शिनच्यांग प्रदेश का मामला चीन का अन्दरूनी मामला ही है। किसी भी देश को इसमें हस्तक्षेप करने का अधिकार नहीं है। पर अमेरिकी अफसरों ने मानवाधिकार के बहाने से चीन की शिनच्यांग नीति के प्रति गैर-जिम्मेदारना व्याख्यान किया। चीन इस का दृढ़ता से विरोध करता है।

अमेरिका 74वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा में शिनच्यांग प्रदेश का मामला उठाने को तैयार है। इसे लेकर चीनी प्रवक्ता ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा विश्व की शांति और विकास पर विचार विमर्श करने के लिए महत्वपूर्ण मंच है। इसी मौके पर दूसरे देश के अन्दरूनी मामलों में हस्तक्षेप करना उचित नहीं है।

चीनी प्रवक्ता ने कहा कि शिनच्यांग प्रदेश में जो समस्या मौजूद है, वह जाति, धर्म और मानवाधिकार की नहीं है। वह विभाजन और हिंसात्कम प्रहार से जुड़ी है। शिनच्यांग में उठाये गये आतंक-रोधी कार्यों में स्पष्ट प्रगतियां हासिल की गयी हैं। इधर तीन सालों में हिंसक प्रहार नहीं हुए। दूसरे देशों के हजार राजनयिकों, अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के अफसरों और संवाददाताओं ने शिनच्यांग का दौरा किया और वहां आतंकवाद का विरोध करने वाले कदमों पर संतोष प्रकट किया। हम अमेरिका से तथ्यों का समादर करने और मानवाधिकार के बहाने से दूसरे देशों के अन्दरूनी मामलों में हस्तक्षेप नहीं करने की मांग करते हैं।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी