कई देशों के विदेश मंत्रियों से मिले वांग यी

2019-09-26 15:01:13

25 सितंबर को चीनी स्टेट काउंसलर एवं विदेश मंत्री वांग यी ने न्यूयार्क में संयुक्त राष्ट्र महा सभा में भाग लेते समय सऊदी अरब के विदेश मंत्री इब्रहिम बिन अब्दुलाजिज अल असफ़ से मुलाकात की।

वांग यी ने कहा कि चीन और सऊदी अरब व्यापक सामरिक साझेदार हैं। चीन कुछ समय पहले सऊदी अरब के तेल उपकरणों पर हमले की निंदा करता है और सऊदी अरब द्वारा देश की प्रभुसत्ता, सुरक्षा व स्थिरता की रक्षा के लिए किये गये प्रयास का समर्थन करता है। साथ ही उन्होंने कहा कि चीन सऊदी अरब के साथ केंद्रीय समस्याओं पर एक दूसरे को समझता है और एक दूसरे का समर्थन करता है।

इस मौके पर असफ़ ने कहा कि सऊदी अरब हमेशा ही द्विपक्षीय व्यापक सामरिक साझेदारी संबंधों के विकास में लगा रहता है। सऊदी अरब 2030 विजन और चीन की बेल्ट एंड रोड पहल को जोड़ना चाहता है। सऊदी अरब एक चीन की नीति पर कायम रहता है। साथ ही सऊदी अरब चीन के साथ आतंकवाद विरोधी और उग्रवादी विरोधी कार्य को मजबूत करने में चीन के साथ सहयोग करना चाहता है। सऊदी अरब चीन के साथ खाड़ी सहयोग संघ-चीन मुक्त व्यापार क्षेत्र के समझौते की वार्ता को जल्द ही पूरा करने की कोशिश करेगा।

25 सितंबर को चीनी विदेश मंत्री वांग यी अलग अलग तौर पर इटली, ग्रीस और किरिबाती के विदेश मंत्रियों से भी मिले। इटली के विदेश मंत्री से मुलाकात में वांग यी ने कहा कि चीन इटली की नयी सरकार के साथ राजनीतिक आपसी विश्वास को मजबूत कर द्विपक्षीय संबंधों में नयी प्रगति पाने की कोशिश करेगी। ग्रीस के विदेश मंत्री से वार्ता में वांग यी ने कहा कि चीन ग्रीस के साथ घनिष्ट आवाजाही को बरकरार रखकर आपसी लाभ वाले सहयोग को गहरा करेगा और क्षेत्रीय व विश्व शांति व विकास के लिए नया योगदान प्रदान करेगा। किरिबाती के विदेश मंत्री से बातचीत में वांग यी ने कहा कि 20 सितंबर को किरिबाती ने एक चीन के सिद्धांत को मान्यता देकर चीन लोक गणराज्य के साथ राजनयिक संबंधों की बहाली करने का एलान किया। यह एक सही निर्णय है। चीन इस की सराहना करता है। समय से साबित होगा कि यह निर्णय किरिबाती देश व जनता के बुनियादी व लम्बे अरसे के हितों के लिए लाभदायक होगा।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी