टिप्पणीः हांगकांग के मामले में हस्तक्षेप से अमेरिका को भी नुकसान पहुंचा

2019-09-26 20:01:00

25 सितंबर को अमेरिकी कांग्रेस के दोनों सदनों की विदेश कमेटी ने कुछ सांसदों द्वारा पेश की गयी तथाकथित 2019 हांगकांग मानवाधिकार और लोकतंत्र विधि को पारित किया और मानवाधिकार और लोकतंत्र के बहाने से खुलेआम हांगकांग की उग्रवादी और हिसंक शक्तियों का समर्थन किया। अमेरिका की इस कार्यवाई ने चीन के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप किया है, गंभीर रूप से अंतर्राष्ट्रीय कानूनों को पैरों तले रौंदा है और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के बुनियादी मापदंडों का उल्लंघन किया है। चीन इस का जबरदस्त विरोध करता है।

हांगकांग के चीन की मातृभूमि में वापस लौटने के पिछले 22 सालों में अनेक क्षेत्रों में चीन के हांगकांग की हैसियत से विश्व के विभिन्न देशों, क्षेत्रों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के साथ संबंधों का विकास किया। लेकिन अमेरिका के कुछ सांसदों ने दोहरा मापदंड अपनाया और हांगकांग की उग्रवादी शक्तियों का समर्थन किया। अमेरिका की इन कार्यवाइयों ने खुद को भी नुकसान पहुंचाया है। हांगकांग एशिया में अमेरिका के प्रमुख आर्थिक व व्यापारिक साझेदारों में से एक है। हांगकांग में समृद्धि व स्थिरता रहने से अमेरिका समेत विभिन्न पक्षों के हितों को लाभ मिलता है। अमेरिकी सदनों में संबंधित विधि के पारित होने से केवल गलत संदेश मिलेगा और हांगकांग में और गड़बड़ी पैदा होगी।

चीन अमेरिका के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप नहीं करता है, अमेरिका को भी इसी रवैये से चीन के साथ व्यवहार करना चाहिए। अमेरिका को इस विधि की सुनवाई को तुरंत बंद करना चाहिए। हांगकांग और चीन के हितों को नुकसान पहुंचाने वाली किसी भी कार्यवाई पर जबरदस्त विरोध होगा।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी