टिप्पणीः शांतिपूर्ण विकास का चीन हमेशा से विश्व का स्टेबलाइज़र है

2019-09-30 19:01:00

हाल ही में चीन सरकार द्वारा जारी नए युग में चीन और दुनिया के श्वेत पत्र में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि नए चीन की स्थापना ने अब तक के 70 वर्षों में चीनी जनता अपनी शक्ति और प्रयास से अपने विकास को आगे बढ़ाने के साथ विश्व शांति और विकास में सकारात्मक ऊर्जा का इंजेक्शन लगाया।

शांति और विकास मानव जाति के समाज की समान खोज है। शीत युद्ध समाप्त होने से अब तक के 30 वर्षों में पश्चिमी देशों द्वारा विश्व के कई क्षेत्रों में की गई सैन्य कार्यवाहियों से मानवीय संकट हो रहा है। उग्रवाद और आतंकवाद का विकास हो रहा है। इससे वर्तमान विश्व शांति प्रक्रिया में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है।

नए चीन की स्थापना से अब तक के 70 वर्षों में चीन ने युद्ध और संघर्ष को भड़काने की पहल कभी नहीं की, दूसरे देशों की एक इंच भी ज़मीन पर आक्रमण नहीं किया है। पिछले 40 से अधिक वर्षों में चीन एक पिछड़े देश से विश्व का दूसरा बड़ा आर्थिक समुदाय बन गया है, इसका मूल कारण दुनिया के विकास की प्रवृत्ति के अनुकूल है, मजबूती से सुधार और खुलेपन की नीति पर कायम रहा है और अपनी स्थिति के अनुकूल रास्ते पर आगे बढ़ रहा है।

नए चीन की स्थापना से अब तक के 70 वर्षों में विकास की प्रक्रिया से यह ज़ाहिर है कि लगातार शांतिपूर्ण विकास कर रहे चीन ने विश्व शांति के लिए कई योगदान किया। चीन के कारणों से दुनिया में स्थिरता बढ़ी है।

वर्तमान विश्व की अशांति और संकट का सामना करते हुए चीन ने वास्तविक कार्रवाई से बड़े जिम्मेदार देश की छवि दिखाई। राजनीतिक रूप से कोरियाई प्रायद्वीप मामले, ईरान परमाणु मामले, सीरिया और अफगानिस्तान के क्षेत्रीय मामले का समाधान करने में चीन हमेशा से रचनात्मक भूमिका निभाता है।

वर्तमान दुनिया में बड़ा बदलाव हो रहा है। इस पृष्ठभूमि में चीन शांतिपूर्ण विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है, अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ आपसी लाभ और समान जीत को आगे बढ़ा रहा है, हमेशा से विश्व शांति का निर्माता और स्टेबलाइज़र बनता रहा है।(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी