अनौपचारिक शिखर बैठक से चीन-भारत संबंधों का स्वस्थ और स्थिर विकास होगा

2019-10-11 15:31:10

चीन और भारत के नेताओं की अनौपचारिक शिखर बैठक 11 से 12 अक्तूबर को चेन्नई में आयोजित होगी ।इस शिखर बैठक की चर्चा में भारत स्थित चीनी राजदूत सुन वेइतुंग ने बताया कि अनौपचारिक शिखर बैठक चीन-भारत संबंधों के स्वस्थ और स्थिर विकास के रास्ते पर बढ़ाएगी।

उन्होंने कहा कि पिछली अप्रैल में चीन के वुहान में हुई पहली अनौपचारिक शिखर बैठक में दोनों नेताओं ने चीन-भारत संबंधों के विकास के लिए दिशा दिखायी ।पिछले एक साल में चीन-भारत संबंध स्वस्थ और स्थिर विकास की पटरी पर दाखिल हुए।

आर्थिक और व्यापारिक सहयोग के बारे में सुन वेइतुंग ने बताया कि चीनी पक्ष चीनी उद्यमों का भारत में निवेश करने का प्रोत्साहन करता है। आशा है कि भारतीय पक्ष चीनी उद्यमों के लिए अधिक न्यायपूर्ण ,सद्भावपूर्ण और सुविधाजनक वातावरण तैयार करेगा ।उन्होंने जानकारी दी कि वर्तमान में 1हजार से अधिक चीनी उद्यम भारत में कारोबार करते हैं और उनके निवेश की कुल रकम 8 अरब अमेरिकी डॉलर है और स्थानीय लोगों के लिए 2 लाख नौकरी के अवसर सृजित हुए हैं।

सुन वेइतुंग ने बताया कि वर्तमान अंतरराष्ट्रीय परिस्थिति में नये परिवर्तन निरंतर उभर रहे हैं ।चीन और भारत समान चुनौती और अवसर का सामना कर रहे हैं ।उन्होंने दोनों देशों से अंतरराष्ट्रीय व क्षेत्रीय मामलों में संपर्क मज़बूत कर एक दूसरे के विकास और बहुपक्षवाद की सुरक्षा करने की अपील की।

सुन वेइतुंग ने बताया कि अगले साल चीन और भारत के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ होगी ।दोनों पक्ष इस विशेष साल मनाने के लिए सिलसिलेवार कार्यक्रम आयोजित करेंगे।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी