पांच वर्ष में चीन-हंगरी व्यापार में मिलीं प्रचुर उपलब्धियां

2017-11-26 18:26:03

चीन, मध्य-पूर्व और यूरोपीय देशों के बीच छठीं शिखर भेंटवार्ता स्थानीय समयानुसार 27 नवम्बर को हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट में आयोजित होगी। इस साल 16 प्लस 1 सहयोग की 5वीं वर्षगांठ है। चीन और मध्य-पूर्व, यूरोप के 16 देशों के साथ यथार्थ सहयोग की प्रचुर उपलब्धियां हासिल हुई हैं। हंगरी 16 प्लस 1 सहयोग की प्रणाली को आगे बढ़ाने और गहरा करने की प्रक्रिया में अहम नेतृत्व की भूमिका निभा रहा है। हंगरी स्थित चीनी वाणिज्य काउंसिलर चो शिनच्येन ने कहा कि 16 प्लस 1 सहयोग की प्रणाली की स्थापना के बाद चीन और मध्य-पूर्व यूरोप के 16 देशों के साथ राजनीतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक आदि विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग में पूरा विकास किया जा चुका है। पिछले कुछ वर्षों में चीन और हंगरी के उच्च स्तरीय आपसी आवाजाही बहुत व्यस्त रहे हैं। इस साल के मई माह में हंगरी के प्रधान मंत्री ने चीन की यात्रा की और एक पट्टी एक मार्ग शिखर सम्मेलन में भाग लिया है। दोनों के संबंध ने तमाम सामरिक साझेदारी संबंधों को उन्नत किया है। हंगरी यूरोप में चीन के साथ एक पट्टी एक मार्ग सहयोग मेमोरेडम पर हस्ताक्षर करने वाला पहला देश है और एक पट्टी एक मार्ग कार्य प्रणाली को शुरू करने वाला पहला देश भी है। आर्थिक और व्यापारिक क्षेत्र में हंगरी यूरोपीय 16 देशों में चीन को सबसे ज्यादा उत्पादों को निर्यातित करने वाला देश है। पिछले साल चीन-हंगरी व्यापार राशि 8.8 अरब अमेरिकी डॉलर थी। अनुमान है कि इस साल यह राशि 10 अरब अमेरिकी डॉलर को भी पार सकेगी। (श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी