ली खछ्यांग को फिर से चीनी प्रधानमंत्री बनने का समर्थन मिला

2018-03-18 20:35:02

आज रविवार सुबह पेइचिंग के जन बृहद भवन में चल रहे 13 वीं राष्ट्रीय पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) के पहले सत्र में, ली खछ्यांग को फिर से चीनी प्रधानमंत्री बनने का समर्थन प्राप्त हुआ। चीन के नव निर्वाचित राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने ली खछ्यांग के नाम को प्रधानमन्त्री पद के लिए नामांकित किया, जिसे करीब 3,000 एनपीसी प्रतिनिधियों ने मतदान कर मंजूरी दी।

राष्ट्रपति शी चिनफिंग द्वारा राष्ट्रपति पद की डिक्री पर हस्ताक्षर किए जाने के बाद ली खछ्यांग आधिकारिक तौर पर प्रधानमंत्री नियुक्त कर हो गये। उसके बाद, ली खछ्यांग ने देश के संविधान के प्रति निष्ठर की शपथ ली। इस पद पर उनके लिए यह दूसरी अवधि है।

बता दूं कि साल 1949 में पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (पीआरसी) की स्थापना के बाद से 2013 में वह सातवें प्रीमियर बने हैं। 1955 में पैदा हुए ली खछ्यांग 1976 में चीन की कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) में शामिल हुए और पेकिंग यूनिवर्सिटी से कानून और अर्थशास्त्र में स्नातक हुए।

इसके अलावा, आज रविवार को पूर्णाधिवेशन में, एनपीसी प्रतिनिधियों ने चीन के केंद्रीय सैन्य आयोग के उपाध्यक्षों और सदस्यों, राष्ट्रीय पर्यवेक्षी आयोग का निदेशक, सुप्रीम पीपल्स कोर्ट के अध्यक्ष, सुप्रीम पीपुल प्रोक्रेटोरेटेट के महाप्रबंधक, और 13वीं एनपीसी स्थायी समिति के सदस्यों का चयन करने के लिए भी मतदान किया।(अखिल पाराशर)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी