शी चिनफिंग और माता जी

2018-05-18 21:04:07

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के शेल्फ़ पर एक ऐसा फ़ोटो रखा है, जिसमें शी चिनफिंग द्वारा माता के साथ घूमने के वक्त की रिकॉर्डिंग की गई है। फोटो में शी चिनफिंग माता जी के हाथ को पकड़कर पार्क में घूम रहे थे।

शी चिनफिंग मां-बाप का सम्मान करते हैं और परिजनों के स्नेह को मूल्यवान समझते हैं।

शी चिनफिंग और माता जी

शी चिनफिंग और माता जी

मां की चिंता

“मां का दिल”

शी चिनफिंग के मां-बाप दोनों वरिष्ठ सरकारी कर्मचारी और पार्टी मेंबर थे। 1962 में शी चिनफिंग के पिता जी को गलती से जेल में डाला गया था, इसलिए उनकी मां ने छोटे बेटे शी युआनफिंग को हनान प्रांत के ह्वांगफेन ज़िले के एक फार्म में लाकर श्रम किया। उनकी दो बड़ी बहनों को स्थानीय उत्पादन कॉर्प्स में डाला गया। जबकि शी चिनफिंग भी उत्तरी शैनशी प्रांत के गांव में भेजे गये।

परिवार के सब लोग अलग अलग जगहों में रहते थे। उनकी मां बहुत चिंतित थीं। वे अक्सर उत्तरी शैनशी प्रांत के गांव में रहने वाले बेटे की याद करती थीं। उन्होंने स्वयं शी चिनफिंग के लिए एक बैग बनाया, जिस पर “माता जी का दिल” तीन लाल शब्दों की कढ़ाई की।

2015 के वसंतोत्सव की एक पार्टी में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने प्राचीन चीन के थांग राजवंश के मशहूर कवि फंग च्याओ की एक कविता सुनायी, जिसमें चीनी जनता की गहरी पारिवारिक भावना प्रकट की गयी थी।

ल्यां च्याहो के दिनों में शी चिनफिंग ने सभी खेती के काम किये थे। 7 वर्षों के ग्रामीण जीवन ने उनके और शैनशी के किसानों के बीच गहरी भावना स्थापित की। 1975 में जब शी चिनफिंग छिंगह्वा विश्वविद्यालय में पढ़ने के लिए वहां से रवाना हुए, तो कई किसान उन्हें विदाई देते समय रो रहे थे।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी