टिपण्णीः स्वीडन पुलिस का मानवाधिकार का स्तर क्या है?

2018-09-16 14:42:01

टिपण्णीः स्वीडन पुलिस का मानवाधिकार का स्तर क्या है?

15 सितंबर को स्वीडन स्थित चीनी दूतावास ने इस महीने की शुरूआत में स्वीडन पुलिसकर्मियों द्वारा चीनी पर्यटकों के साथ घृष्ठतापूर्वक बर्ताव पर वक्तव्य जारी कर स्वीडन पुलिस की कार्यवाई की कड़ी निंदा की। चीन ने जोर दिया कि संबंधित कार्यवाई ने चीनी नागरिकों की जीवन सुरक्षा और बुनियादी मानवाधिकारों का गंभीर उल्लंघन किया है। चीन ने स्वीडन सरकार से तुरंत इस मामले की पूरी जांच करने और चीनी नागरिकों द्वारा प्रस्तुत सज़ा देने, क्षमा देने और मुआवजा देने की मांग करते हुए समय पर प्रतिक्रिया देने की मांग की। आशा है कि स्वीडन पक्ष कानून के मुताबिक कार्यवाई करेगा और यथार्थ रूप से स्वीडन में चीनी नागरिकों की सुरक्षा व कानूनी हितों की गारंटी दे सकेगा। लेकिन अभी तक स्वीडन पक्ष ने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी। स्वीडन की मीडिया संस्थाएं भी इस पर खामोश रही हैं।

शायद स्वीडन पक्ष के खामोश रहने का और कोई कारण है। इस घटना की आगे जांच करने की जरूरत भी है। घटनास्थल पर वीडियो के मुताबिक 2 स्वीडिश पुलिसकर्मियों ने 67 वर्षीय चीनी पुरुष को खींचकर होटल के बाहर निकाला और चीन समेत अनेक देशों की मानवाधिकार स्थित की आलोचना की, मानों वे विश्व मानवाधिकार के चर्च हों। देश के प्रशासन का एक अहम भाग होने के नाते स्वीडन पुलिस की कार्यवाई को स्वीडन की विकसित सभ्यता के स्तर का प्रतिबिंबत करना चाहिए। लेकिन 2 सितंबर को इस घटना से हमें स्वीडन में मानवाधिकार के संरक्षण स्तर पर संदेह हो रहा है। क्या स्वीडन में मानवाधिकार के संरक्षण के दो मापदंड हैं?यानी वह सिर्फ अपने नागरिकों के मानवाधिकार की रक्षा करता है, जबकि अन्य देशों के नागरिकों के बुनियादी मानवाधिकार को पैरों तले रौंद डालता है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी